googlenews
साली नहीं पत्नी र्हूं
Stories of Grihalakshmi

गृहलक्ष्मी की कहानियां – उस समय तो मैं जीजा जी के समझाने पर समझ गई लेकिन थोड़ी नर्वस भी थी। जब ट्रेन में टीटी टिकट चेक करने आया तो टीटी को देखकर मैं घबरा गई, जब उसने मुझसे पूछा कि आप इनकी कौन हैं तो घबराहट में मेरे मुंह से निकल गया, मैं इनकी पत्नी हूं। टीटी थोड़ी देर मुझे देख कर चुप हो गया फिर बोल पड़ा आप इनकी पत्नी हैं? फिर मैंने बोला नहीं मैं इनकी साली हूं। फिर मुझे जीजा जी की बात याद आई और मैं बोल पड़ी नहीं मैं पत्नी हूं। टीटी मुझे घबराया हुआ देखकर बोल पड़ा कि आप इनकी पत्नी हों या साली आराम से बैठिए। मुझे देखकर आसपास बैठे सभी लोग हंस पड़े और मैं शर्म से मुंह झुकाकर बैठ गई।

साली नहीं पत्नी र्हूं
stories of Grihalakshmi
1 मैडम आपका कुर्ता उल्टा है
बात उस समय की है जब मैंने बीटेक की परीक्षा पास की थी और पहली बार जॉब के लिए इंटरव्यू देने जा रही थी। लाइफ का पहला इंटरव्यू था इसलिए बहुत ज्यादा नर्वस थी। मैं जल्दी से तैयार होकर उस जगह पर पहुंची जहां  इंटरव्यू था। बहुत से लोग इंटरव्यू में आए थे और सबको देखकर मैं और ज्यादा नर्वस हो गई। कुछ लोग मुझे देखकर आपस में बातें करके हंस रहे थे तब भी मुझे पता नहीं चला कि वो क्यों हंस रहे हैं। थोड़ी देर बाद तब मेरा इंटरव्यू का नंबर आया तब मैं अंदर गई वहां तीन लोग इंटरव्यू पैनल पर बैठे थे, सबने मेरा इंटरव्यू लिया और उसी समय रिजल्ट भी बता दिया मैं जॉब के लिए सेलेक्ट हो गई थी। मैं खुश हो कर उठ कर वहां से बाहर जाने लगी तभी इंटरव्यू पैनल में बैठे हुए तीन लोगों में से एक ने मुझे रोकते हुए बोला कि मैडम आपने बहुत अच्छे रिस्पांस दिए लेकिन आपने उल्टा कुर्ता पहना हुआ है। ये सुनकर मैं शर्म से लाल हो गई और हंसती हुई तेजी से बाहर भाग आई।
साली नहीं पत्नी र्हूं
stories of Grihalakshmi
2- अलग चप्पल का फैशन है
एक दिन मैं जल्दी में ऑफिस के लिए तैयार हो रही थी तभी एक जरूरी कॉल आ गया और मैं जल्दी से तैयार होकर ऑफिस भागने लगी। जब मैं ऑफिस पहुंची तब सब मेरे पैरों की तरफ  देखकर ज़ोर से हंसने लगे। जब मैंने अपने पैर देखे तो मुझे भी हंसी आ गई, मैंने दोनों पैरों में अलग चप्पलें पहनी थी। ये देखकर मैं शर्म से लाल हो गई और हंसते हुए मैं सबसे बोलने लगी कि हंसने की क्या बात है अलग चप्पल का ही फैशन है।
यह भी पढ़ें-
उस समय तो मैं जीजा जी के समझाने पर समझ गई लेकिन थोड़ी नर्वस भी थी। जब ट्रेन में टीटी टिकट चेक करने आया तो टीटी को देखकर मैं घबरा गई, जब उसने मुझसे पूछा कि आप इनकी कौन हैं तो घबराहट में मेरे मुंह से निकल गया, मैं इनकी पत्नी हूं। टीटी थोड़ी देर मुझे देख कर चुप हो गया फिर बोल पड़ा आप इनकी पत्नी हैं? फिर मैंने बोला नहीं मैं इनकी साली हूं। फिर मुझे जीजा जी की बात याद आई और मैं बोल पड़ी नहीं मैं पत्नी हूं। टीटी मुझे घबराया हुआ देखकर बोल पड़ा कि आप इनकी पत्नी हों या साली आराम से बैठिए। मुझे देखकर आसपास बैठे सभी लोग हंस पड़े और मैं शर्म से मुंह झुकाकर बैठ गई।
2- मैडम आपका कुर्ता उल्टा है

बात उस समय की है जब मैंने बीटेक की परीक्षा पास की थी और पहली बार जॉब के लिए इंटरव्यू देने जा रही थी। लाइफ का पहला इंटरव्यू था इसलिए बहुत ज्यादा नर्वस थी। मैं जल्दी से तैयार होकर उस जगह पर पहुंची जहां  इंटरव्यू था। बहुत से लोग इंटरव्यू में आए थे और सबको देखकर मैं और ज्यादा नर्वस हो गई। कुछ लोग मुझे देखकर आपस में बातें करके हंस रहे थे तब भी मुझे पता नहीं चला कि वो क्यों हंस रहे हैं। थोड़ी देर बाद तब मेरा इंटरव्यू का नंबर आया तब मैं अंदर गई वहां तीन लोग इंटरव्यू पैनल पर बैठे थे, सबने मेरा इंटरव्यू लिया और उसी समय रिजल्ट भी बता दिया मैं जॉब के लिए सेलेक्ट हो गई थी। मैं खुश हो कर उठ कर वहां से बाहर जाने लगी तभी इंटरव्यू पैनल में बैठे हुए तीन लोगों में से एक ने मुझे रोकते हुए बोला कि मैडम आपने बहुत अच्छे रिस्पांस दिए लेकिन आपने उल्टा कुर्ता पहना हुआ है। ये सुनकर मैं शर्म से लाल हो गई और हंसती हुई तेजी से बाहर भाग आई।
शीला मिश्रा, लखनऊ

3- अलग चप्पल का फैशन है

एक दिन मैं जल्दी में ऑफिस के लिए तैयार हो रही थी तभी एक जरूरी कॉल आ गया और मैं जल्दी से तैयार होकर ऑफिस भागने लगी। जब मैं ऑफिस पहुंची तब सब मेरे पैरों की तरफ  देखकर ज़ोर से हंसने लगे। जब मैंने अपने पैर देखे तो मुझे भी हंसी आ गई, मैंने दोनों पैरों में अलग चप्पलें पहनी थी। ये देखकर मैं शर्म से लाल हो गई और हंसते हुए मैं सबसे बोलने लगी कि हंसने की क्या बात है अलग चप्पल का ही फैशन है।
इशिता बाजपेयी, मुंबई