गणेश उत्सव की चारों ओर धूम मची है। गणपति के स्वागत के साथ उनकी प्रिय मिठाई मोदक भी सबके घरों में बन रहा है। सच कहूं तो कुछ साल पहले तक कई उत्तर भारतीय लोग लड्डू को ही मोदक समझते थे, मैं खुद भी! लेकिन जब महाराष्ट्र जाना हुआ तो समझ आया कि मोदक और लड्डू में क्या अंतर है। मोदक को चावल के आटे से बनाया जाता है, जिसमें नारियल और गुड़ डाला जाता है। इसे घी में बनाया जाता है। यह गणपति का सबसे पसंदीदा व्यंजन है, जिसके बिना गणपति की पूजा अधूरी है। यही वजह है कि इस त्योहार पर गणेश जी के इस फेवरेट मीठे डिश को सभी अपने घर पर बनाते हैं।

मोदक के बारे में तो आपने काफी कुछ जान लिया, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह छोटी सी खूबसूरत दिखने और स्वाद में मीठी इस मिठाई के कई स्वास्थ्य लाभ भी हो सकते हैं। इस बार मैंने यह भी जाना कि मोदक के कई हेल्थ बेनेफिट्स हैं, जिसके बारे मेंकरीना कपूर की डाइटीशियन ऋजुता दीवेकर ने अपने एक सोशल मीडिया पोस्ट में बताया है। ऋजुता शुरू से ही लोकल और सीजनल फूड को बढ़ावा देती आई हैं। आज हम इस आर्टिकल में मोदक के कुछ खास हेल्थ बेनेफिट्स के बारे में जानेंगे, जिनके बारे में ऋजुता दीवेकर ने बताया है।

कब्ज में लाभदायक

मोदक को बनाते समय घी का इस्तेमाल किया जाता है। और घी इंटेस्टाइन के म्यूकस लाइनिंग का फिर से निर्माण करता है। इसके साथ ही यह टॉक्सिन को आसानी से निकालने में भी मदद करता है। कम लोगों को ही पता होगा कि घी में विटामिन ‘ए’, विटामिन ‘डी’, विटामिन ‘ई’ और विटामिन ‘के’ होता है, जो हमारी हड्डियों, मस्तिष्क, हृदय और इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी हैं।

ब्लड प्रेशर को रखें नियंत्रित

मोदक में नारियल का भरपूर इस्तेमाल किया जाता है। नारियल में मीडियम चेन ट्राइ- ग्लाइसेराइड्स होता है, जो हृदय को सुरक्षित रखता है और हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के साथ ही नियंत्रित करने में मदद करता है। नारियल को यूं ही श्री फल नहीं कहा जाता, यह हमारी स्किन की हेल्थ को भी अच्छा रखने में मदद करता है।

बढ़ाता है अच्छा कोलेस्ट्रॉल 

मोदक खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ाने में मदद करते हैं। नारियल में व्याप्त स्टेरॉल्स और मोदक में इस्तेमाल किए जाने वाले ड्राई फ्रूट्स एलडीएल को कम करते हैं और एचडीएल लेवल में सुधार लाते हैं। ये हमारे हृदय को स्वस्थ रखने में सहायक हैं। आपके लिए यहां यह जानना जरूरी है अगर आपकी बॉडी में एचडीएल कोलेस्ट्रॉल ज्यादा रहता है, तो हृदय से जुड़ी बीमारियां होने का जोखिम बहुत कम हो जाता है।

डायबिटीज के लिए सुरक्षित

मोदक चावल, नारियल और गुड़ के साथ घी में बनता है, जिसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स मीडियम से लो रहता है। यह पूरी तरह से सुरक्षित है और स्थिर ब्लड शुगर रिस्पॉन्स के लिए लाभकारी है। आसान शब्दों में मोदक को डायबिटीज के मरीज भी खा सकते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप दिन भर खाते रहें।

आर्थराइटिस से राहत

मोदक घी में बनता है, और घी में ब्यूटिरिक एसिड पाया जाता है, जो बॉडी के हर टिशू में इनफ्लेमेशन को कम करने के लिए एक ट्रेडिशनल थेरेपी है। खास तौर पर अगर आपके जोड़ों में दर्द है, तो मोदक आपको आपको फायदा करेगा।

पीसीओडी में मददगार

पीसीओडी से जूझ रही महिलाओं के लिए एक अच्छी खबर यह है कि अगर उन्हें समय पर पीरियड्स नहीं आ रहे हैं तो मोदक इसमें उनकी मदद कर सकता है। मोदक को चावल के आटे से बनाया जाता है, चावल का आटा ब्लड शुगर को स्थिर करने में मदद करता है। इसमें व्याप्त बी1 विटामिन प्रीमेन्सट्रूअल सिन्ड्रोम और शिगर क्रेविंग को भी कम करने में भी मददगार है। यही नहीं, अगर आप बढ़ते वजन या वजन को कंट्रोल में रखने के लिए कई चीजें नहीं खाती हैं, तो चिंता न करें। आप मोदक आराम से खा सकती हैं। घी और नारियल आपके स्किन को भी अच्छा रखेंगे।

थायरॉइड ग्लैंड बोलेगा शुक्रिया

थायरॉइड आज की एक आम समस्या है, जो हर दूसरे और तीसरे व्यक्ति को अपना शिकार बना रहा है। ऐसे में अगर हम मोदक को एंटी एजिंग मिक्स्चर बोलें, तो यह बिल्कुल सही होगा। यह एक ऐसी डिश है, जिसके सेवन के बाद आपका थायरॉइड ग्लैंड आपको शुक्रिया बोलेगा।

वेट लॉस में भी मददगार

जैसा कि हम पहले भी जान चुके हैं कि मोदक मीडियम से लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला होता है, इसमें गुड फैट भी होता है। पौराणिक ग्रंथों में मोदक को वीर्य के फूड के तौर पर सेलिब्रेट किया गया है, यानी कि यह बॉडी में स्थिरता और मस्तिष्क में स्थिरता लाने के लिए स्पेशल है।

मोदक सिर्फ गणपति को पसंद आने वाली एक डिश ही नहीं है, बल्कि एक छोटी सी खुशी का दूसरा नाम है, जो आपको इसके एक टुकड़े को खाने से मिलती है। तो, इस गणेश उत्सव को आप मीठे और स्वादिष्ट मोदक के साथ जरूर सेलिब्रेट करें, वह भी बेफिक्र हो कर!  

यह भी पढ़ें –

Digital Detox : क्यों जरूरी है आपका अपने स्मार्ट फोन से दूरी बनाकर रखना

Celebrity Training Tips : जैकलिन और रणबीर के कोच से जानें वेट लॉस सीक्रेट

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें –editor@grehlakshmi.com