बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्रियों में रानी मुखर्जी और उन्हें पति आदित्य चोपड़ा बॉलीवुड के उन कपल्स में शुमार है जो स्टार स्टेटस इंजॉय करने के बाद भी अपनी पर्सनल लाइफ को ज्यादातर प्राइवेट रखना ही पसंद करते है। दोनों से जुडी ज्यादातर बातें बाहर कंट्रोवर्सी का हिस्सा नहीं बनती है। लेकिन दोनों की लव स्टोरी की जब शुरुवात हुई थी तब इसे गॉसिप वर्ल्ड का हिस्सा बना लिया गया था।

 

आपको बता दें कि, आदित्य चोपड़ा पहले से शादीशुदा थे लेकिन उनका उनकी पहली पत्नी से डिवोर्स हो गया था। जिसके चलते रानी और आदित्य की दोस्ती बढ़ने लगी और लोगों ने इनकी दोस्ती को ही इस तलाक का जिम्मेदार ठहराया गया। लेकिन रानी ने हमेशा गरिमा के साथ इस पूरी स्थिति का सामना किया और कभी ऐसा कुछ नहीं कहा, जिसका लोग फायदा उठा सकें। एक इंटरव्यू में जरूर उन्होंने इस बारे में अपने विचार रखे थे और अपना फ्रंट क्लियर किया था।

 

गलत बताई अफवाएं

आपको बता दें कि, आदित्य चोपड़ा हमेशा से ऐसे शख्स रहे हैं, जो लाइमलाइट से दूर रहना पसंद करते हैं। ऐसे में जब उनके पत्नी से अलग होने की रिपोर्ट्स आईं, तो सबके लिए ये शॉक बनकर आया, क्योंकि किसी को भनक तक नहीं थी कि इस फिल्ममेकर की मैरिड लाइफ ठीक नहीं चल रही है। अफवाहों को हवा तब मिली जब आदित्य का रानी के साथ नाम जुड़ने लगा। उस समय तो लोगों ने तरह-तरह के अंदाजे लगाना शुरू कर दिए थे। अफवाहों के कई समय बाद इस पर रानी मुखर्जी ने अपनी चुप्पी तोड़ी।

 

रानी ने कहा कि उन्होंने किसी का भी घर नहीं तोड़ा है। ऐक्ट्रेस ने कहा था कि, ‘अफवाहों से उलट, मैंने आदित्य को उनके तलाक के बाद डेट करना शुरू किया था। तब वे मेरे प्रड्यूसर भी नहीं थे। मैं उनके साथ तब रिश्ते में आई, जब आदित्य के साथ काम नहीं कर रही थी, क्योंकि अपने प्रड्यूसर को डेट करना मेरी पसंद नहीं।’

 

दोस्ती से प्यार का सफर

रानी और आदित्य के बीच का रिश्ता दोस्ती से शुरू हुआ और फिर उन्हें अहसास हुआ कि उन्हें एक-दूसरे से प्यार है। वहीं रानी मुखर्जी ने शेयर किया था कि उन्हें डेट पर ले जाने से पहले आदित्य ने उनके पैरंट्स से परमिशन ली थी। रानी की फैमिली इससे खुश थी और यही रिऐक्शन फिल्ममेकर की मॉम का भी था। दोनों के रिश्ते में जब पैरंट्स भी साथ आए और देखा कि दोनों एक-दूसरे को लेकर कितना सहज है। ये माता-पिता को भी अपने बच्चे के साथी को समझने का मौका देता है, जो आगे चलकर इन-लॉज के साथ बेहतर रिश्ता बनाने में मदद करता है।

 

आदित्य की इस खूबी पर फ़िदा हुई रानी

रानी मुखर्जी ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि उनकी और आदित्य की सोच एक जैसी है। दोनों ही अपने पैरंट्स का सम्मान और प्यार करते हैं। साथ ही में उन्होंने ये भी बताया था कि वह बिल्कुल भी नेगेटिव पर्सन नहीं हैं और किसी को नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं। रानी ने ये भी कन्फेस किया था कि आदित्य के साथ वह बतौर व्यक्ति काफी बेहतर बनी हैं और रिश्ते में आने के बाद उन दोनों को अपने आप को ज्यादा समझने का मौका मिला, जो रिश्ते के लिए जरूरी है।

 

उन्होंने आगे कहा कि, अगर आपको ऐसा साथी मिले, जो आपको अपना बेहतर वर्जन बनने में मदद करे, तो इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता। ऐसा पार्टनर पाने वाले लोग न सिर्फ अपनी पर्सनल लाइफ में ज्यादा खुश रहते हैं, बल्कि अगर वे वर्किंग हैं, तो उस फ्रंट पर भी वे ज्यादा बेहतर परफॉर्म करते हैं। वहीं अगर साथी इससे उलट मिल जाए, तो करियर के साथ निजी जीवन भी ढलान पर आ जाता है।

रानी के लिए आदित्य ही है “शिव”

 

एक इंटरव्यू के दौरान रानी मुखर्जी ने अपने पति को अपनी जिंदगी का शिव बताया था। उन्होंने कहा था कि जिस तरह से भगवान शिव शांत, धैर्यवान और सिर्फ पार्वती के प्रति प्रेम रखते थे, उसी तरह आदित्य उनके लिए हैं। रानी ने कहा था कि वह उनसे बहुत प्यार करते हैं और हमेशा कम्पोज़्ड रहते हैं। रिश्ते में चीटिंग का दुख न जाने कितने लोगों ने सहा है। ऐसे में अगर ऐसा जीवनसाथी मिले, जो सिर्फ आपको प्यार करे और धोखे के बारे में सोचे तक ना, तो रिश्ते में आने वाली सारी मुश्किलें भी छोटी पड़ जाएंगी। क्योंकि जब दोनों का मजबूती से साथ बना रहेगा, तो वे हर मुश्किल को मिलकर सुलझाएंगे और अपनी हैपी स्टोरी खुद लिख सकेंगे।

 

रानी की शादीशुदा जिंदगी

 

रानी और आदित्य एक दूसरे के साथ 21 अप्रेल 2014 को बंधन में बंध गए। जिसके बाद 9 दिसंबर साल 2015 में कपल के घर एक नन्ही परी का जन्म हुआ , जिसका नाम उन्होंने ‘आदिरा’ रखा। आपको बता दें कि, बेटी आदिरा का नाम आदित्य और रानी के नाम का मिश्रण है। आदिरा के जन्म के कई दिनों बाद तक रानी ने मीडिया से अपनी बेटी के चेहरे को छुपाकर रखा था।

 

यह भी पढ़े। 
बॉलीवुड से जुड़े हमारे लेख आपको कैसे लगे? अगर आपको किसी सेलिब्रिटी के बारे में जानना हैं या हमारे कोई लेख आपको पसंद आया हो तो आप अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेेजें।  हमें ई-मेल कर सकते हैं- editor@grehlakshmi.com