googlenews
बिग बॉस में हर दूसरे दिन बदल रहे हैं नियम: Bigg Boss Latest News
Bigg Boss 16 Latest News

Bigg Boss Latest News: बिग बॉस सीजन दर सीजन नई उंचाइयों पर पहुंचा है। हर सीजन के पहले से ही उसके कंटेस्टेंट और उससे जुड़ी बातों का दर्शकों को बेसब्री से इंतजार रहता है। इस बार भी ऐसा ही हुआ। बिग बॉस के खुद गेम खेलने की बात हो चाहे वीकेंड के वार का दिन बदलने की बात हो, इससे दर्शकों के बीच इसके लिए उत्‍सुकता बहुत ज्‍यादा बढ़ गई थी। बिग बॉस 16 की लोकप्रियता इस बार एक कंटेस्‍टेंट अब्‍दू रोजिक की वजह से और भी बढ़ी। दर्शक समझ ही नहीं पा रहे कि बिग बॉस खुद गेम खेल रहे हैं या वो भी कंटेस्‍टेंट्स की तरह कन्‍फ्यूज हैं। कुछ घटनाएं तो इस बार ऐसी हुईं जो पहले कभी नहीं हुईं। फिर चाहे हिंसा के बाद अर्चना गौतम की घर वापसी हो या बिग बॉस का अपने ही निर्णय को वापस लेना हो। दर्शकों को बिग बॉस की ऐसी बहुत सी बातें नागवार गुजरीं।

बिग बॉस ने बदला अपना निर्णय

इस बार ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई कंटेस्‍टेंट हिंसा के बाद भी शो में वापस आ गया है। पिछले हफ्ते अर्चना और शिव के बीच हुई लड़ाई के दौरान अर्चना ने शिव का गला पकड़ लिया। जिसके बाद बिग बॉस ने उन्‍हें शिव की सहमति के साथ घर से बाहर कर दिया। वीकेंड वार में सलमान खान ने बिग बॉस के इस निर्णय को दरकिनार कर शिव की नॉर्मल प्‍लानिंग को दिखाते हुए अर्चना को उकसाने और बाहर के किसी पर्सन का नाम लेने की बात की। उस समय साफ लग रहा था कि अर्चना को शो में वापस लाने के लिए इस घटना को दूसरी तरह से दिखाया जा रहा है। सलमान ने अर्चना को घर में वापसी दी तो वहीं दूसरे ही दिन बिग बॉस ने शालीन को दिए अपने दिए दंड से मुक्‍त कर दिया। उस वक्‍त ऐसा लगा जैसे सलमान और बिग बॉस आपस में ही गेम खेलने लगे हैं।

बंद हुआ स्‍मोकिंग रूम

ऐसा पहली बार हुआ है जब शो में बिग बॉस कंटेस्‍टेंट को स्‍मोकिंग के लिए समझाते हुए थक गए। बिग बॉस इतना मजबूर नजर आए कि उन्‍होंने कंटेस्‍टेंट को दंड या नॉमिनेट करने की बजाय स्‍मोकिंग रूम ही बंद कर दिया। बिग बॉस की ये बात दर्शकों को पसंद तो आई लेकिन अगर उन्‍हें स्‍मोकिंग के लिए पॉजिटिव मैसेज देना ही है तो वे कंटेस्‍टेंट को घर में स्‍मोकिंग बैन करने के लिए कदम उठा सकते थे। या वे उन कंटेस्‍टेंट को ही शो में हिस्‍सा क्‍यों नहीं बनाते जो स्‍मोकिंग न करते हों। स्‍मोकिंग रूम में स्‍मोकिंग हो या बाहर, नेशनल टीवी पर स्‍मोकिंग करते हुए दिख तो जाते ही हैं कंटेस्‍टेंट। तो बिग बॉस की रूम बंद कर सिगरेट भेजने की स्‍ट्रैटजी समझ में नहीं आ रही।

दिन की शुरूआत ही है बोरिंग

बिग बॉस अब तक अपने दिन की एनर्जेटिक शुरूआत के लिए जाना जाता था। सुबह होते ही गाना बजते जिसपर कंटेस्‍टेट्स डांस करते हुए दिन की शुरूआत करते। सुबह से ही उनमें जोश दिखने लगता। इस सीजन में एक बड़ा बदलाव किया गया और दिन की शुरूआत बिग बॉस एंथम के साथ होती है। जिसमें आधे सोए आधे जागे कंटेस्‍टेंट लाइन में खड़े हो एंथम गाते हैं। ऐसा लगता है जैसे स्‍कूल में एसेंम्‍बली हो रही है। अंतर इतना है कि कम से कम स्‍कूल में बच्‍चे पूरे जोश के साथ एसेंम्‍बली में खड़े होते हैं। मगर यहां तो आलस से भरपूर नजर आते हैं। जो कतई किसी को नहीं भा रहा है। दिन की आलस भरी शुरूआत के बाद आधे से ज्‍यादा दिन कंटेस्‍टेंट कभी यहां तो कभी वहां लेटे नजर आते हैं।

कम हो रहे टास्‍क

बिग बॉस अपने होने वाले टास्‍क की वजह से भी दर्शकों को भाता है। टास्‍क के दौरान जीतने के लिए कंटेस्‍टेंट्स का किसी भी हद तक जाना। कभी किसी अपने का बचाने के लिए कुर्बानी देना तो अपने विरोधी को निकालने के लिए एडी चोटी का जोर लगाना। लेकिन इस सीजन में पहले की तुलना में कम टास्‍क हो रहे हैं। यही नहीं जो टास्‍क हो रहे हैं वे भी नाम के लिए हो रहे हैं।च

अब्‍दू पहले विदेशी कंटेस्‍टेंट नहीं

वो प्‍यारा है, हर किसी का दुलारा है भले ही वो उम्र में बड़ा है लेकिन उसकी मासूमियत ने न सिर्फ कंटेस्‍टेंट बल्कि दर्शकों का भी दिल जीता है। जी हां हम बात कर रहे हैं अब्‍दू रॉजिक की। वो अकेले कंटेस्‍टेट हैं जिनको हर कोई पसंद करता है। छोटा भाईजान आया गाते गाते अब्‍दू जैसे सच में छोटा भाईजान बन गए हैं। फिर भी कई जगह बिग बॉस की अब्‍दू के लिए की जाने वाली बातें दर्शकों को नहीं भा रही हैं। जिसमें एक बात है शो में कंटेस्‍टेंट का उन्‍हें बार बार अतिथि बुलाकर स्‍पेशल ट्रीटमेंट करना। ऐसा नहीं है कि अब्‍दू शो में आए पहले विदेशी कंटेस्‍टेंट हैं। इसके पहले भी सनी लियोनी, नोरा फतेही और एमि जैसे कई विदेशी कंटेस्‍टेंट शो का हिस्‍सा बन चुके हैं। लेकिन उस समय उन कंटेस्‍टेंट को भले ही इंगलिश बोलने की छूट थी मगर उन्‍हें हिंदी सीखने और बोलने की हिदायत थी। अब्‍दू को कैप्‍टन बनने के बाद स्‍पेशल गिफ्ट मिला और उनकी कैप्‍टेंसी बढाने के लिए एक टास्‍क भी कराया गया। दर्शकों को सिर्फ घरवाले ही नहीं बिग बॉस भी अब्‍दू पर कुछ मेहरबान से दिख रहे हैं।  

सुंबुल के पिता को शो में बुलाना

शो के शुरूआती दिनों में ही सुंबुल के पिता को बुलाकर उन्‍हें समझाना दर्शकों को बिल्‍कुल नहीं भाया। ऐसा पहली बार हुआ था कि शो में किसी कंटेस्‍टेंट के परिवार के सदस्‍य को उसका गेम सुधारने और घर में उनसे जुड़े लोगों के बारे में आगाह करने के बारे में बुलाया गया है। किसी को भी ये बात बिलकुल समझ ही नहीं आ रही थी। क्‍योंकि इसके पहले अगर कभी भी किसी कंटेस्‍टेंट को किसी तरह से आगाह करने की बात होती थी तो सलमान खुद ही करते थे। बिग बॉस सीजन 13 में रश्मि देसाई को गलत रिश्‍ते में फंसने से बचाने के लिए खुद सलमान घर में गए थे। यही नहीं इस सीजन में भी सौंदर्या को भी उनके रिश्‍ते का सच बताने के लिए सलमान ने उन्‍हें गौतम की सच्‍चाई दिखाने की कोशिश की। वहीं अर्चना गौतम के बाहर निकाले जाने पर बाहर की बातें घर में नहीं करने की हिदायत देने वाले मेकर्स ने खुद ही सुंबुल के पिता को बुलाया जो कि दर्शकों के गले से नीचे नहीं उतर पा रही।

Leave a comment