खुद बनाई राह

एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मी पहाड़ी कन्या कंगना राणावत की जिंदगी की राह अपनी बनाई हुई है। चूंकि वो पहाड़ी रास्तों की अभ्यस्त हैं इसलिए जिंदगी की कठिनाईयों को भी आसानी से पार कर लेती हैं।

टिप्पणियों से नहीं डरती

अपने पर हुए कमेंटस पर वो किसी तरह का कोई विरोध नहीं करती। फिर चाहे वो उनके अंग्रेजी के भाषा ज्ञान पर किए गए कमेंटस हों या फिर उनके अक्खड़पन पर की गई टिप्पणियां। वे इनसे निपटने में माहिर हो गई हैं।

कोई गॉड फादर नही

कंगना ने जब बॉलीवुड में कदम रखा तब उनके पीछे उनका कोई गॉड फादर नहीं था। बिना किसी गॉड फादर के कंगना ने बॉलीवुड में अपने पैर ऐसे जमाएं, जिनको कोई भी हिला नहीं सका।

गुस्सा बहुत आता है

कंगना को गुस्सा बहुत बाता है। इसलिए उन्हें गुस्सैल व नकचढ़ी का खिताब दिया गया है। पर इन सबके बावजूद कंगना अपनी राह चली जा रही है क्योंकि इस गुस्सैल लड़की के पीछे कहीं एक ठेठ आम लड़की है।

दिखावा पसंद नहीं

जिंदगी को जिंदगी की तरह जीने के लिए कंगना किसी भी तरह के दिखावे से दूर रहना पसंद करती हैं। वह दिखावे वाली जिंदगी पर तंजभरे कटाक्ष करने से पीछे नहीं रहती। वो ऐसे लोगों से दूर रहती हैं, जो दिखावा करते हैं।

पहाड़ी लोगों के करीब हैं
कंगना खुद पहाड़ी हैं इसलिए वो पहाड़ी लोगों को दिल के करीब रखती हैं। वो उनके प्रेमिल स्वभाव की तारीफ करती नहीं थकती।