आजकल लावा शैल फेशियल काफी प्रचलन में हैं क्योंकि इस फेशियल के परिणाम काफी बेहतर मिल रहे हैं। मेकओवर एक्सपर्ट आशमीन मुंजाल बता रही हैं लावा फेशियल के बारे में विस्तार से।

 लावा शैल फेशियल

 लावा शैल फेशियल की पूरी प्रक्रिया को कुल 6 स्टेप्स में बांटा जा सकता है। जैसा की नाम से ही ज़ाहिर है कि लावा शैल फेशियल करने के लिये ज्वालामुखी में निकलने वाले लावा सामग्री को शैल के अंदर डाले जाते हैं और उन्हीं लावा शैल के जरिये फेशियल मसाज दी जाती है।

स्टेप-1 : सबसे पहले चेहरे की अच्छी तरह क्लींजिंग की जाती है, फिर एम्पल्स के माध्यम से ग्लाइको पील्स या फिर हाइड्रो एसिड जोकि एक तरह फ्रूट एंजाइम्स होते हैं त्वचा में इंसर्ट किये जाते हैं। उसके बाद त्वचा डर्मिस के 3-4 स्तर तक अल्ट्रासोनिक मसाज दी जाती है।

 स्टेप-2 : स्टेप टू के अंतर्गत चेहरे की त्वचा पर लावा शैल के जरिये मसाज की जाती है। इन लावा शैल को त्वचा के पीएच बैलेंस के अनुसार एक परफेक्ट टेम्परेचर पर गर्म करने के बाद मसाज के लिये इस्तेमाल किया जाता है। यह शैल कई प्रकार के मिनरल्स, मरीन साल्ट और एक्टीवेटर से भरे होते हैं। सॉफ्ट थेरेपेटिक मसाज करने से शैल्स के अंदर मौजूद सामग्री में रासायनिक परिवर्तन होते हैं, जिससे शैल्स की बाहरी सतह गर्म हो जाती है।

 स्टेप-3 : चेहरे की त्वचा में मौजूद सभी टोक्सिंस को प्रेशर प्वाइंट अथवा फ्लश प्वाइंट पर खींचकर लाया जाता है और इन शैल्स की मदद से सभी टोक्सींस को तुंरत त्वचा से बाहर कर दिया जाता है। 2 से 3 बार इस्तेमाल के बाद यदि शैल्स का तापमान घटने लगे तो उन्हें सूखे टॉवल में लपेटकर रखा जाता है ताकि गर्माहट से शैल्स के अंदर मौजूद सामग्री में रासायनिक प्रक्रिया हो सके और वे गर्म हो जायें।

 स्टेप-4 : शैल्स थैरेपी समाप्त हो जाने पर चेहरे पर एक सूदिंग सिरम लगाया जाता है और फिर चेहरे को गीले खुशबूदार शीट से लपेट दिया जाता है।

 स्टेप-5 : चेहरे से शीट हटाने के बाद फूलों से तैयार फेस पैक में दूध मिलाकर चेहरे पर पतली परत लगायें। यह चेहरे के रोमछिद्रों पर मुलायम परत बना देंगे। यदि त्वचा थोड़ी तैलीय है तो पैक में दूध की जगह एस्ट्रीजेंट मिलाया जा सकता है।

 स्टेप-6 : पैक जब सूख जाये तो हाथों को गीला कर चेहरे पर हल्की मसाज कर फिर धीरे-धीरे पूरे पैक को चेहरे से साफ कर दिया जाता है। इससे पैक हटाने के बाद त्वचा नर्म और चमकदार दिखायी देने लगेगी।

 ध्यान रखें

1. फेशियल कराने के बाद कम से कम 6 घंटे तक धूप में नहीं जाना चाहिये।

 2. लावा फेशियल कराने के बाद सौम्य फेस-वॉश, स्क्रब, साबुन, मेकअप, मॉश्चराइजर इस्तेमाल नहीं करना चाहिये।

कौन करवा सकता है लावा फेशियल

 22 साल से अधिक उम्र की कोई भी महिला या पुरुष लावा शैल फेशियल करवा सकता है। सामान्य या रूखी त्वचा वालों के लिये यह फेशियल बहुत ही अच्छा रहता है। लेकिन तैलीय या मुंहासे वाली त्वचा होने पर इस फेशियल को नहीं करवाना चाहिये। यह आम फेशियल की तरह महीने में एक बार करवाया जा सकता है।

खर्च : लावा शैल फेशियल करवाने में कुल 3500 रुपये का खर्च आता है।

 लगने वाला समय : लावा शैल फेशियल की पूरी प्रक्रिया में कम से कम 80 मिनट का समय लगता है।

 लावा शैल फेशियल के फायदे

 1. लावा शैल से मसाज करने से त्वचा से टॉक्सिन और एसिड बाहर निकल जाते हैं।

 2. त्वचा से झुर्रियां समाप्त होने में मदद मिलती है।

 3. मृत त्वचा साफ हो जाती है, जिससे त्वचा ग्लो करने लगती है।

 4. मेलनिन बनने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है।