एलोवेरा को हम सभी मानव जाति के लिए एक वरदान मानते हैं। उसका कारण है एलोवेरा का औषधीय गुणों से भरा होना। इसे आज के समय में संजीवनी भी कह सकते हैं। प्राय: सभी बीमारियों में यह लाभकारी होता है। इसके साथ ही इसका प्रयोग सौंदर्य प्रसाधन के लिए भी किया जाता है। यह ऐसा वरदान है जिसका प्रयोग आप प्रत्येक मौसम में कर सकते हैं।

एलोवेरा के पत्तों में विटामिन ए, बी, बी2 बी3, बी6, बी12 विटामिन सी व ई भी पाया जाता है, साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में फोलिक एसिड भी होता है।

जड़ी बूटी के गुणों से भरपूर होने के कारण त्वचा संबंधी हर तरह के रोगों में एलोवेरा लाभकारी है। साथ ही एलोवेरा में विटामिन ई भरा होता है इसलिए होठों के रूखेपन को दूर करने के लिए इसका प्रयोग असरदार है। जैतुन के तेल में एलोवेरा मिलाकर लगाने से भी होंठ मुलायम होते हैं।

  • अगर आंखों में सूजन व थकावट की समस्या है तो भी आंखों पर एलोवेरा का एक बड़ा टुकड़ा रखें या फिर आप जेल भी लगा सकते हैं। आंखों की समस्या दूर हो जाएगी। चेहरे पर जब भी वैक्स कराएं और लाली आ जाए तो आप एलोवेरा जेल को दूध में मिलाकर लगाएं। इससे लाल दाने दूर हो जाएंगे।
  • एलोवेरा से आप अपनी त्वचा में कसाव ला सकते हैं। इससे झुर्रियों, दाग धब्बों की परेशानी से आसानी से छुटकारा मिल जाता है।
  • एलोवेरा में पानी बहुत ज्यादा पाया जाता है। इसलिए इसके अंदर त्वचा को मुलायम करने का गुण होता है। बिना चिपचिपाहट दिए त्वचा के तेल व मुंहासे दूर करता है। 
  • एलोवेरा नाखूनों पर लगाने से नाखून चमकीले व मजबूत होते हैं।
  • सूर्य की किरणों से अगर आपको खुद को बचाकर चलना है तो एलोवेरा जेल को चेहरे पर लगाकर जाएं। ये आपकी त्वचा को सूर्य की किरणों से बचा कर रखेगा। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट गुण होता है जो स्किन की नमी बनाए रखता है। इससे त्वचा पर पराबैंगनी किरणों का असर नहीं पड़ता है।
  • चेहरे पर अगर मस्से हो गए हैं तो आप उस मस्से पर जेल की मोटी पर्त लगाकर रातभर उस पर टेप लगाकर छोड़ दें। कुछ सप्ताह ऌप्रतिदिन ऐसा करें। मस्सा निकल जाएगा।
  • एलोवेरा जेल की मालिश बालों में करने से रूसी व बालों की रूखेपन की समस्या दूर होती है।
  • एलोवेरा शुगर, हृदय रोगों, जोड़ों का दर्द, कोलेस्ट्रॉल, पेट संबंधी परेशानियों, जुकाम में काफी लाभकारी है और अगर ये रोग आपसे दूर हो गए तो त्वचा खिल उठेगी।

परंतु एलोवेरा खाने व लगाने से पहले किसी अच्छे वैद्य या डॉक्टर से सलाह जरूर करें, तभी इसका प्रयोग करें क्योंकि कुछ बीमारियों में इसको ना खाने की सलाह भी दी जाती है। 

इसके अलावा आप घर पर एलोवेरा के कुछ विशेष तरह के फेस पैक भी बना सकते हैं, जैसे-

एलोवेरा व टी ट्री ऑयल-मुहासों के लिए यह टी ट्री ऑयल बहुत अच्छा है परंतु जब उसको एलोवेरा में मिलाकर लगाया जाता है तो इसके लाभ कई गुना बढ़ जाते हैं। अगर ज्यादा देर तक आप इसेे रखते हैं तो यह त्वचा को लाभ की बजाय हानि देगा। इसलिए इस पैक को 2-3 मिनट ही चेहरे पर लगाएं। फिर अच्छे से मसाज करें व पानी से धो लें।

नारियल तेल, एलोवेरा तथा शक्कर-नारियल तेल एलोवेरा व शक्कर को बराबर मात्रा में लेकर मिलाएं। उसको आप अपने चेहरे पर 5 मिनट लगा रहने दें। इसके बाद जब ये सूख जाए तो गीले हाथों से चेहरे पर मसाज करके इसको छुड़ाएं। उसके बाद साफ पानी से मुंह धो लें। ये मिश्रण स्क्रब के रूप में लाभकारी रहेगा।

एलोवेरा और नींबू का स्क्रब-दो नींबू के रस, दो चम्मच एलोवेरा जेल व दो चम्मच गुलाबजल को मिला लें। उसको त्वचा पूरे शरीर पर बॉडी स्क्रब की तरह मसाज करें और 5 मिनट बाद धो लें। पूरी तरह से शरीर की टैनिंग निकल जाएगी।

एलोवेरा स्प्रे-एलोवेरा के गूदे को मिक्सी में चलाकर छान लें फिर उसमें बराबर मात्रा में केवड़े व गुलाबजल को मिला लें। इसे किसी स्प्रे बॉटल में भरकर रख लें। जब भी आपने मेकअप उतारना हो तो चेहरे पर इसका स्प्रे करें, फिर रूई के फाये से साफ करें और पानी से धो लें।

एलोवेरा और हल्दी दो चम्मच एलोवेरा में आधा चम्मच हल्दी मिलाएं और इस मिश्रण को चेहरे, हाथ, पैरों, कोहनी, घुटने ऌपर लगाएं। इससे ना केवल चेहरे हाथ, पैर, कोहनी, घुटने की मृत त्वचा निकलेगी बल्कि रंग भी साफ होगा। हल्दी में एन्टीसेप्टिक गुण होने के कारण त्वचा के हर रोग को दूर करता है ये पैक।

एलोवेरा और चंदन- दो चम्मच एलोवेरा और एक चम्मच चंदन पाउडर को मिलाकर चेहरे पर लगाएं। इसके प्रयोग से ना केवल चेहरे पर निखार आएगा बल्कि कील मुंहासे व दाग-धब्बे भी दूर हो जाएंगे। ये पैक चेहरे की खोई रौनक वापस लाने में गुणकारी है।

नीम तथा एलोवेरा-नीम की पत्ती को पीस कर पेस्ट बना लें। फिर बराबर मात्रा में उसमें एलोवेरा मिला लें, उसे पूरे शरीर पर लगाएं। नीम की गुणकारी तत्त्वों व एलोवेरा के गुण मिलकर आपकी त्वचा की हर समस्या दूर करेंगे। रोगों से रक्षा करेंगे और चेहरे पर निखार भी लाएंगे।

एलोवेरा और दही का मिश्रण-दो चम्मच एलोवेरा जेल, एक चम्मच दही तथा एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएं। चाहें तो नींबू की जगह शहद का प्रयोग भी कर सकते हैं। शहद जहां सामान्य व शुष्क त्वचा के लिए लाभकारी है, वहीं नींबू तैलीय त्वचा के लिए। इस पैक को 2 मिनट चेहरे पर लगा रहने दें। फिर ठंडे पानी से धो लें।

एलोवेरा जेल एवं मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक-एलोवेरा जेल और मुल्तानी मिट्टी को मिलाएं। इसे पतला करने के लिए गुलाब जल या दूध का इस्तेमाल कर सकते हैं। चेहरे पर इस पैक को लगभग 20 मिनट लगा रहने दें। उसके बाद धो लें। सामान्य और तैलीय त्वचा के लिए यह पैक उत्तम है।

त्वचा के लिए एलोवेरा को अमृत माना जाता है। त्वचा संबंधी कई परेशानियों का इलाज छिपा है एलोवेरा में। यह त्वचा के लिए कई रूपों में लाभकारी है। आप चाहें तो त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लेकर इसका उपयोग कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें –कैसे बचें बरसाती संक्रमण से

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें-editor@grehlakshmi.com