googlenews
Marriage Life
Happy Married Life Tips

Marriage Tips: जब दो व्यक्ति शादी के बंधन में बंधते हैं, तो वह अपने नए जीवन को लेकर कई तरह के सपने संजोते हैं। उन दोनों के ही मन में अपने पार्टनर को लेकर कई तरह की उम्मीदें व इच्छाएं होती हैं। आमतौर पर देखने में आता है कि कुछ कपल्स के बीच शुरूआती दिनों में तो सब कुछ ठीक होता है, लेकिन जैसे-जैसे समय बीतने लगता है, उनके बीच समस्याएं बढ़ने लगती हैं। कभी-कभी तो उनके बीच कड़वाहट इतनी अधिक बढ़ जाती है कि उनकी आपसी दरार को भी भरना काफी मुश्किल हो जाता है।

वहीं, दूसरी ओर कुछ कपल्स ऐसे होते हैं, जिनका वैवाहिक रिश्ता ताउम्र वैसा ही बना रहता है। इतना ही नहीं, हर गुजरते दिन के साथ उनका रिश्ता और भी अधिक मजबूत व खुशहाल बनता जाता है। ऐसे कपल्स को देखकर अक्सर लोगों के मन में यह ख्याल आता है कि आखिरकार इनकी हैप्पी मैरिड लाइफ की वजह क्या है। दरअसल, ऐसे जोड़े अपने वैवाहिक जीवन को हमेशा खुशनुमा बनाए रखने के लिए कुछ रूल्स को फॉलो करते हैं, जो उनके रिश्ते में दूरियां या समस्याएं नहीं आने देता है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपके साथ हैप्पी मैरिड लाइफ के कुछ सीक्रेट्स शेयर कर रहे हैं, जो यकीनन आपको भी बेहद पसंद आएंगे-

बेहतर कम्युनिकेशन व अंडरस्टैडिंग होना

यह हैप्पी मैरिड लाइफ का सबसे पहला व जरूरी रूल है। अक्सर देखने में आता है कि जब कपल्स के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा या अनबन होती है, तो वह एक-दूसरे से बात करना ही बंद कर देते हैं और यह सिलसिला कई दिनों तक चलता है। ऐसा करने से वह स्थिति को बद से बदतर बना रहे होते हैं। जब आप अपने मन की बात ही अपने पार्टनर से नहीं कहोगे तो समस्या का समाधान कैसे निकलेगा। वहीं दूसरी ओर खुशहाल कपल्स के बीच जब भी किसी बात को लेकर प्रॉब्लम होती है तो वह बातचीत बंद करने की जगह एक-दूसरे से उस मुद्दे पर बात करते हैं और अपना पक्ष रखते हैं। इतना ही नहीं, वह अपने पार्टनर का पक्ष समझने का भी प्रयास करते हैं। जब वे ऐसा करते हैं तो उन्हें एक बीच का रास्ता मिल जाता है, जिसमें उन दोनों की सहमति शामिल हो।

प्यार जताने में कंजूसी ना करना

यह भी एक आम मिसटेक है, जो अक्सर वैवाहिक जोड़े करते हैं। जब किसी व्यक्ति की शादी होती है, तो वह शुरूआती दिनों में तो अपने पार्टनर के प्रति केयर व लव को जाहिर करता है, लेकिन जब जिन्दगी एक ढर्रे पर आ जाती है तो वह आई लव यू तक भी कहना जरूरी नहीं समझते। ऐसा करने से उनके रिश्ते में एक उदासीनता आ जाती है और दोनों ही पार्टनर केवल अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हैं। जबकि एक हैप्पी कपल हमेशा ही अपने पार्टनर को पैम्पर करने और उन्हें स्पेशल फील करवाने के मौके खोजते हैं। ऐसा करके उन्हें खुद भी काफी खुशी मिलती है। इसलिए, जब भी आपको मौका मिलेग, अपने पार्टनर को प्यार जताने में कंजूसी ना करें। छोटी-छोटी मस्ती आप दोनों के ही चेहरे पर हमेशा मुस्कान बिखेरती रहेंगी।

अपने सांचे में फिट करने की कोशिश ना करना

अपने साथी को बदलने के लिए कहना किसी भी रिश्ते की सबसे खराब चीजों में से है। यह जरूरी नहीं है कि आपके पार्टनर की सोच, राय व चीजों को देखने का नजरिया ठीक वैसा ही हो, जैसा कि आपका है। एक-दूसरे के विचारों में मतभेद और विरोध होना तय है, लेकिन एक-दूसरे के विचारों का सम्मान करना और उन्हें स्वीकार करके ही एक खुशहाल वैवाहित जीवन का रास्ता तय किया जा सकता है। अगर आप पार्टनर को अपने सांचे में पूरी तरह से फिट करने की कोशिश करते हैं तो यह हमेशा ही आपके रिश्ते में टकराव व मनमुटाव की वजह बनेगा।

ब्लेम गेम ना खेलना

दुनिया में कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं होता। कुछ कमियां हम सभी में होती हैं, लेकिन अक्सर देखने में आता है कि लोग कभी भी अपनी गलती नहीं मानना चाहते। बल्कि वह किसी प्रॉब्लम के लिए सिर्फ अपने पार्टनर को ही ब्लेम करते हैं। ऐसा करके आप भले ही उस स्थिति में खुद को क्लीन साबित कर लें, लेकिन इससे आपके पार्टनर के मन में आपके प्रति प्यार काफी कम हो जाता है। इसलिए मैरिड लाइफ में ना तो कभी ब्लेम गेम खेलें और ना ही कभी भी अपने पार्टनर की गलती होने पर उन्हें नीचा दिखाने का प्रयास करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो इससे आपका रिश्ता काफी डैमेज होता है।

एक-दूसरे की हॉबीज को एन्जॉय करना

अपने रिश्ते व जीवन में एक नयापन लाने के लिए अक्सर हैप्पी कपल्स अपने पार्टनर की हॉबीज को एन्जॉय करने का प्रयास करते हैं। चूंकि हम सभी स्वभाव से अलग होते हैं, इसलिए हमारी पसंद-नापसंद भी काफी अलग होती है। इस स्थिति में अगर आप अपने पार्टनर के साथ मिलकर उनकी हॉबीज से जुड़ी कुछ एक्टिविटीज करते हैं, तो इससे आपको एक रोमांच का अहसास होगा। साथ ही साथ आपको अपने पार्टनर के व्यक्तित्व के एक नए पहलू के बारे में पता चलेगा। इतना ही नहीं, इससे आपको अपने पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का भी मौका मिलेगा, जो आपको रिश्ते को अधिक मजबूत बनाएगा।

माफी मांगने में गुरेज नहीं

अधिकतर कपल्स के रिश्ते में सबसे बड़ा प्रॉब्लम ईगो का होता है। जब उन दोनों के बीच किसी बात को लेकर प्रॉब्लम होती है तो ऐसे में उन्हें लगता है कि अगर वह अपने पार्टनर से माफी मांगते हैं, तो उन्हें हमेशा अपने पार्टनर के सामने झुककर रहना पड़ेगा। जबकि वास्तव में ऐसा नहीं होता है। माफी मांगने से कोई इंसान छोटा नहीं होता। बल्कि आपका एक प्यारा सा सॉरी रिश्ते में मौजूद सारी कड़वाहट को दूर कर देता है। जिससे आपको अपने पार्टनर के साथ एक हैप्पी मैरिड लाइफ जीने का मौका मिलता है।

यह भी पढ़ें-कहीं गैजेट्स आपकी लव लाइफ को खराब तो नहीं कर रहे, पहचानें इन संकेतों से

रिलेशनशिप संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही रिलेशनशिप से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें – editor@grehlakshmi.com