मेकअप की कला भी एक चित्रकला ही है। जिस तरह पेंटर अपने ब्रश से विभिन्न रंगों का इस्तेमाल करके अपनी पेंटिंग को खूबसूरत शक्ल देता है, उसी प्रकार मेकअप आर्टिस्ट विभिन्न प्रकार के ब्रश का इस्तेमाल करके लोगों को खूबसूरती प्रदान करता है। ब्रश… दोनों ही आर्ट में इस्तेमाल होने वाला एक कॉमन टूल है। आइए जानें इस टूल के टाइप व टेक्नीक को। 

मेक-अप ब्रश दो प्रकार के होते हैं :-

एनिमल फर ब्रश :- एनिमल फर ब्रश के साथ मेकअप करना तो आसान होता ही है, साथ ही ये प्रोडक्टस को बर्बाद होने से भी बचता है।

सिंथैटिक ब्रश :- सिंथैटिक ब्रश में मेकअप प्रोडक्टस घुस जाते हैं और जल्दी नहीं निकलते हैं, जिस कारण दूसरा प्रोडक्ट इस्तेमाल करने पर कलर मिक्सिंग हो जाती है। यही कारण है कि सिंथैटिक ब्रश एनिमल फिर ब्रश की तुलना में काफी सस्ते होते हैं। 

मेकअप के लिए अलग-अलग ब्रश :-

फांउडेशन ब्रशः-

  • इसका इस्तेमाल स्किन पर फांउडेशन या बेस बनाने के लिए प्रयोग किया जाता है। 
  • इस ब्रश के बाल काफी घने और स्टेबल होते है। 
  • इससे बेस स्मूद बनता है और चेहरे पर एकसार लगता है।

ब्लशर ब्रशः-

  • गालों पर शर्म की गुलाबी छटा बिखेरने के लिए इस ब्रश का इस्तेमाल किया जाता है। इस ब्रश का आकार बड़ा होता है।
  • इससे बाल काफी घना और गोलाकार होता है। 
  • इसकी मदद से ब्लशर को ब्लेंड करने में आसानी होती है और वो वेस्ट भी नहीं होता।

आईशैडो ब्रशः-

  • आईशैडो को लगाने के लिए इस ब्रश का उपयोग किया जाता है। 
  • इस ब्रश का सेबल फ्रलैट और उपर से ओवल होता है।

 

आईलाइनर ब्रशः-

  • आंखों की शेप डिफाइन करते समय इस ब्रश का इस्तेमाल आउट लाइन खींचने के लिए किया जाता है।
  • ये ब्रश नीचे से मोटा और ऊपर से पतला होता जाता है, जिससे लाइन बनाना आसान हो जाता है। इससे आउट लाइन आसानी से बना ली जाती है और पिनीशिंग भी शार्प आती है।

आईब्रोज ब्रशः-

  • इस ब्रश का इस्तेमाल आईब्रोज को कलर करने के साथ-साथ आईब्रोज को कॉम्ब करने के लिए भी किया जाता है। 
  • इसका सेबल एंग्युलर, थिन और आगे से फ्लैट होता है। इस ब्रश के ब्रिसल्स टूथब्रश के समान थोड़े हार्ड होते हैं।

बिंदी ब्रशः –

  • भारतीय शृंगार बिंदी के बिना हमेशा अधूरा सा लगता है। इसी अधूरेपन को पूरा करने के लिए इस ब्रश का इस्तेमाल किया जाता है। 
  • लाइनर ब्रश की तरह इसके सेबल भी राउंड होते हैं, लेकिन उससे ज्यादा पतले होते हैं।
  • इससे विभिन्न तरह की बिन्दियों के डिजाइन बनाने में आसानी होती है।
  • आप चाहें तो इस ब्रश की सहायता से खुद भी डिजाइनर बिंदी बना सकती हैं।

लिपस्टिक ब्रश :-

  • होठों पर लिपस्टिक लगाने के लिए इस ब्रश का इस्तेमाल किया जाता है।
  • इस ब्रश का सेबल फ्लैट और आगे की ओर नुकीला होता है। 
  • लिपस्टिक को ब्रश से लगाने से वो ज्यादा देर तक टिकी भी रहती है।
  • लिपस्टिक जब खत्म होने लगती है तब ब्रश की मदद से उसे लास्ट तक पूरा इस्तेमाल किया जा सकता है।

काबुकी ब्रश :-

  • पूरे फेस के मेकअप को लास्ट में प्रॉपर ब्लेंड करने के लिए इस काबुकी ब्रश का इस्तेमाल किया जाता है। 
  • काबुकी ब्रश का पिछला हिस्सा शेविंग ब्रश की तरह काफी छोटा होता है और सेबल राउंड और डेन्स होता है।

फैन ब्रश :-

  • इस ब्रश के बाल का आकार हैंड फैन की तरह अर्ध चन्द्रकार होता है। 
  • इसका उपयोग मेकअप के बाद चेहरे पर लगे अतिरिक्त पाउडर और कॉस्मेटिक्स को हटाने के लिए किया जाता है। 
  • मेकअप आर्ट को खूबसूरत अंजाम देने वाले, इस टूल की महत्ता को कम नहीं आंका जा सकता है। लंबे समय तक इसका उपयोग किया जा सके, इसके लिए जानते हैं कुछ जरूरी टिप्स-

मेकअप ब्रश की केयर :-

  • मेकअप ब्रश के बाल ग्लू से चिपकाए गए होते हैं। इन्हें अधिक समय तक पानी में नहीं रखना चाहिए अन्यथा से बाल निकलने लगते हैं। 
  • ब्रश को अधिक समय तक उल्टा करके नहीं रखें, क्योंकि इससे बाल की शेप बिगड़ जाती है। इन्हें लिटाकर सुखाना ज्यादा अच्छा रहता है।
  • ब्रश क्लीन करने के लिए आप शैंपू व ब्रश क्लीनर का इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • ब्रश धेने के बाद डेटॉल या किसी अन्य एंटीसेप्टिक घोल में डिप करने से ये
  • इंफेक्शन फ्री हो जाते हैं।
  • वैसे हाइजिन का ध्यान रखते हुए ब्रश को अल्कोहल बेस्ड क्लीनर से क्लीन करना ज्यादा बेहतर होता है।
  • ब्रश को धोने के बाद कॉटन या टिशू पेपर की मदद से से बाल को दबाएं, इससे बाल नेचुरल शेप में आ जाएगा और स्टिक पर लगा पेंट जल्दी खराब भी नहीं होगा।