रोजमर्रा की नीरस जिंदगी से जब हम ऊब जाते हैं तो हवा के ताजे झोंके की तरह त्योहार हमारे जीवन में खुशियों के रंग भरते हैं और मस्ती का समा बांध कर हमारे मन में फिर से भरपूर उर्जा और उत्साह भर देते हैं। त्योहारों के समय में हम करते हैं ढेर सारी मस्ती, सेलिब्रेशन और पार्टी और कोशिश करते हैं, अपने इस खास समय को खास अंदाज में मनाने की। त्योहारों की इन तैयारियों के बीच वे पल सबसे यादगार होते हैं, जब हम अपने अपनों के बीच बैठ कर करते हैं, ढेर सारी मस्ती यानी कि पार्टी टाइम। तो सेलिब्रेशन की फुल- ऑन मस्ती से भरी शामें यादगार बन जाएं, इसके लिए निकालिए कुछ पल और बनाइए अपनी उत्सवी शामों को खास, कुछ इस तरह।

पॉटलक डिनर पार्टी 

त्योहारों का मौसम यानी सेलिब्रेशन और इस माहौल में अच्छे खाने-पीने के बगैर बात अधूरी रह जाती है। माहौल की मस्ती और सेलिब्रेशन के मूड में फ्रेंड्स और फैमिली के साथ मिल-बैठ कर खाने-पीने और लजीज पकवानों का लुत्फ हर कोई उठाना चाहता है। लेकिन त्योहारों का समय है तो व्यस्तता भी बेहद बढ़ जाती है। उत्सवों की अन्य तैयारियों के बीच लंच या डिनर पार्टी के लिए समय निकालना बेहद मुश्किल होता है। ऐसे में सभी अपनों के साथ मिलजुल कर भव्य दावत का लुत्फ भी उठा पाएं और ज्यादा समय और तैयारियों की जरूरत भी न पड़े, इसके लिए पॉटलक डिनर या लंच पार्टी का आयोजन करने का आइडिया बेहतरीन है। पॉटलक पार्टी में हर परिवार अपनी पसंद की कोई एक या दो डिश बना कर लाता है, यानी जितने परिवार इस पार्टी में शामिल होंगे, उतनी ही तरह के व्यंजनों का स्वाद सभी को चखने का मौका मिलेगा। यानी बिना ज्यादा झंझट के आप मिल जुल कर एक शानदार फेस्टिव डिनर पार्टी का आयोजन कर सकते है। इसमें चाहें तो आप सभी मिलकर एक मेन्यू तैयार कर सकते हैं या फिर सभी अपनी पसंद की सरप्राइज डिश बना कर ला सकते हैं। केवल इतना ध्यान रखें कि बनाएं कुछ ऐसा जो बच्चों, बड़ों सभी को पसंद आए।

म्यूजिक पार्टी

जहां बात हो पार्टी और सेलिब्रेशन की तो म्यूजिक का होना बेहद जरूरी है। अच्छा म्यूजिक किसी भी पार्टी की रौनक में जान डाल देता है, तो क्यों
न उत्सव के इस माहौल में आप खासतौर पर म्यूजिक पार्टी का आयोजन करें। अगर आपको लगता है कि आपके फ्रैंड्स और फैमिली के लोग गाने के शौकीन हैं तो आप सभी मिलजुल कर म्यूजिक पार्टी में अपनी पसंद के गानों से समां बांध सकते हैं या फिर आप सबकी पसंद के अनुरूप म्यूजिक लिस्ट तैयार करके उसे पार्टी में ह्रश्वले कर सकते हैं। इसके लिए अपनी म्यूजिक प्ले लिस्ट पहले से ही तैयार रखें। म्यूजिक का चुनाव इस बात को ध्यान में रखते हुए करें कि प्लेलिस्ट सभी की पसंद केसाथ ही उत्सवी माहौल और मूड के अनुरूप ही हो। अगर आप अपनी म्यूजिक पार्टी घर में ही ऑर्गेनाइज कर रहे हों तो म्यूजिक सिस्टम आदि पहले से तैयार कर लें। इस म्यूजिक पार्टी के लिए आप किसी डीजे को बुला सकते हैं या फिर आप स्वयं ही अपनी म्यूजिक पार्टी को त्योहारों के अनुरूप टच देने के लिए हिट बॉलीवुड नम्बर्स के अलावा त्योहारों से संबंधित सांस्कृतिक म्यूजिक भी प्ले कर सकते हैं। कुछ वेबसाइट्स भी हैं जिनसे आप सबकी पसंद के अनुरूप म्यूजिक डाउनलोड कर सकते हैं जैसे कि सॉन्ग्स पी.के. डॉट कॉम, इंडिया एम.पी.थ्री. डॉट कॉम आदि। इसके अलावा अचानक आई खास डिमांड केलिए आप फ्री ऑनलाइन म्यूजिक प्ले करने वाली वेबसाइट्स की मदद ले सकते हैं जैसे कि सावन डॉट कॉम, गाना डॉट कॉम आदि।

डांस पार्टी
खुशियों भरे माहौल में मन नाच उठता है। तो अपनी खुशियों का इजहार करने के लिए त्योहारों के इस मौसम में क्यों न एक शाम डांस पार्टी के नाम की जाए और त्योहारों के इस मौसम को अपने साल भर के तनाव और परेशानियों को दूर करने का एक बहाना बनाया जाए। वैसे भी कई शोधों से साबित हो चुका है कि नाचना शरीर और मन दोनों के लिए ही कई प्रकार से फायदेमंद होता है। तो त्योहारों को सेलीब्रेट करने के लिए डांस नाइट के प्रोग्राम का आयोजन, उत्सव के उमंग और उत्साह को दुगुना कर देगा।
इसके लिए जरूरी नहीं कि आप सभी को डांस में महारत हासिल हो, बल्कि खुशी और उमंग के माहौल के अनुरूप कदम अपने आप थिरक उठें और आपके मन की खुशियों को बढ़ा दें, यही इस पार्टी के आयोजन का उद्देश्य होना चाहिए। तो बिना किसी झिझक के डूब जाइए माहौल की मस्ती में और अपनी डांस पार्टी नाइट को बनाइए एक ग्रैंड सक्सेस।

सोशल पार्टी
यहां हम सोशल गेट-टुगेदर या सोशल नेटवॄकग की बात नहीं कर रहे। हम बात कर रहे हैं सोशल कॉज की यानी दूसरों के लिए भी अपने कुछ पल देने की। कहते हैं, खुशियां बांटने से बढ़ती हैं, तो इसे ही इस बार के त्योहार का मूलमंत्र बनाते हुए अपने त्योहारों की खुशियों को दुगुना कीजिए, इन्हें ऐसे लोगों के साथ सांझा करके जो इन खुशियों से थोड़ा महरूम हैं।आप अपने त्योहारों को सेलीब्रेट करने के लिए अपने परिवार के साथ तो हर साल दशहरा, दीवाली और क्रिसमस मनाते ही हैं, इस बार क्यों न इन त्योहारों में कुछ ऐसे लोगों के जीवन में भी उल्लास और भरपूर खुशियां भरने की कोशिश करें जो इन त्योहारों में भी खुशियों से अनजान रहते हैं। जैसे कि दीवाली पर जब आप अपने बच्चों को नए कपड़े पहनते, मिठाइयां खाते और पटाखों की धूम में खिलखिलाते देखकर खुश होते हैं तो इस खुशी को आप दुगना कर सकते हैं, ऐसे लोगों के साथ भी दीवाली, दशहरा या क्रिसमस मनाकर जो कि इन खुशियों से अनजान हैं। तो इस बार के त्योहारों को खास अंदाज में मनाइए और एक दिन नाम कीजिए अनाथ बच्चों और अपने बच्चों की राह तकते वृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्गों के नाम। आपकी यह सोशल पार्टी आपको अपने त्योहार को मनाने का सही अर्थ और सच्ची खुशी देगी और आपकी खुशियों को दुगना कर देगी।

मूड को करें अपलिफ्ट

त्योहार हैं तो सेलिब्रेशन तो बनता ही है। उत्सव की इन शामों को खास बनाने और त्योहारों की खुशियों को दुगना करने के लिए मज़ेदार पार्टी से बढ़कर कुछ नहीं। यकीन मानिए यह आपके उत्साह को बढ़ाने और आपके मूड को त्योहारों के अनुरूप अपलिफ्ट करने का एक बेहतरीन आइडिया साबित होगा।