googlenews
सेक्स फैक्ट्स
मिथ 1- एक उम्र के बाद सेक्स क्षमता में कमी आ जाना
सच- बहुत से लोगों को यह भ्रम हो जाता है कि एक उम्र के बाद शरीर में सेक्स शक्ति में कमी आ जाती है। लेकिन ये धारणा गलत है क्योंकि यदि इस उम्र के पुरुष अपने स्वास्थ्य को ठीक प्रकार से  देखभाल करते हैं तो वह सेक्स का आनंद उसी प्रकार से ले सकते हैं, जिस प्रकार से एक युवा पुरुष सेक्स क्रिया का आनन्द लेता है।
 
मिथ 2- स्तनपान के दौरान आप प्रेगनेंट नहीं हो सकती
सच- स्तनपान के दौरान बॉडी में बनने वाले हार्मोंस कुछ समय के लिए तो ओव्यूलेशन रोक सकते हैं लेकिन कितना, यह पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता। यही वजह है कि डिलीवरी के बाद भी सेक्स के दौरान सुरक्षात्मक उपायों के उपयोग की सलाह दी जाती है।
 
मिथ 3- दो कंडोम का इस्तेमाल करना ज्यादा सुरक्षित है
सच- यह सही नहीं है ऐसा करने से दोनों एक-दूसरे से रगड़ खाकर फट भी सकते हैं। इसलिए यह तरीका ज्यादा सुरक्षित नहीं कहा जा सकता।
 
मिथ 4- पीरियड में सेक्स करने से प्रेगनेंट ना होना
सच- इस दौरान सेक्स करने से प्रेगनेंसी की संभावनाएं कम अवश्य हो सकती हैं लेकिन इन्हें पूरी तरह से नकारा नहीं जा सकता। शुक्राणु आपके शरीर में काफी दिनों तक रह सकता है, खासतौर पर तब जब आपका मासिक चक्र छोटा हो। 
 
मिथ 5- कंडोम कभी एक्सपायर नहीं होते
सच- कंडोम एक्सपायर होते हैं। कंडोम खरीदते वक्त पैकेट को ध्यान से देखें। उसमें उनकी एक्सपायरी डेट दी होती है। इससे एलर्जी हो सकती है और यह पुराना होने की वजह से फट भी सकता है।
 
मिथ 6- ओरल सेक्स से यौन संचारित रोग नहीं होते
सच- दरअसल ये मिथक पूरी तरह से गलत है। आप ओरल सेक्स से संक्रमित हो सकते हैं। बुद्धिमानी इसी में हैं कि ओरल सेक्स से पहले इस बात का पता कर लें कि आपका पार्टनर पूरी तरह से स्वस्थ है या नहीं।
 
मिथ 7- ड्रिंक करके सेक्स करने से सेक्स का मजा दोगुना हो जाता है
सच- यह गलत है। ड्रिंक का सेक्स से कोई संबंध नहीं है। बल्कि कई बार शराब
का सेवन आपको सेक्स के अनुभव से वंचित कर देता है।
 
मिथ 8- पहली बार सेक्स से हैमेन टूटता है
सच- यह मिथ्य है कि लड़की का कौमार्य उसकी हैमेन पर निर्भर करता है, जबकि ऐसा नहीं है। हैमेन भी सामान्य काम या गतिविधियों के दौरान खेल, साइकिल चलाने आदि से टूट सकता है।