Viral ताजमहल का घर: ताजमहल को प्रेम का प्रतीक कहा जाता है क्योंकि शाहजहां ने इसे अपनी पत्नी मुमताज के लिए बनवाया था। खूबसूरती की इस नायाब इमारत को दुनिया के सात अजूबों में शामिल किया गया है। किसी का प्रेमी उसके लिए प्रेम की ऐसी अद्भुत निशानी बनाए तो सचमुच प्रेम झुठलाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे ही अपने प्रेम को जगजाहिर करते हुए मध्य प्रेदश के एक शख्स ने अपनी पत्नी को ताजमहल जैसा हूबहू घर तोहफे में दिया है।

इस घर की बनावट और आकार बिलकुल ताजमहल जैसा है, इसपर गुम्बद भी है और किनारे पर चार मीनारें भी। इस घर को आनंद चौकसे ने अपनी पत्नी मंजूषा चौकसे के लिए बनवाया है। इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने बताया कि आनंद चौकसे और उनकी पत्नी ताजमहल देखने भी गए थे और लौटकर उन्होंने कहा कि उन्हें ताजमहल जैसा ही घर चाहिए। यह घर मध्यप्रदेश के एतिहासिक शहर बुरहानपुर में स्थित है। आनंद को हमेशा लगता था कि ताजमहल उनके शहर बुरहानपुर में क्यों नहीं है। वजह यह थी कि मुमताज की मृत्यु आगरा में नहीं हुई थी बल्कि बुरहानपुर में हुई थी। हालांकि, ताजमहल ताप्ती नदी के किनारे ही बनना प्रस्तावित था लेकिन बाद में उसे आगरा में बनवाया गया।

इस ताजमहल जैसे घर का गुम्बद 29 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। इसमें चार कमरे हैं, एक बड़ा हॉल है, किचन है, एक मेडिटेशन का कमरा है और एक लाइब्रेरी भी है। घर के फर्श को राजस्थान के मकराना से बनाया गया है और नक्काशी बंगाल और इंदौर के कारीगरों ने की है। इस घर का फर्नीचर भी ऐसा वैसा नहीं है बल्कि मुंबई और सूरत के कारीगरों से बनवाया गया है।

प्रवीण चौकसे का यह तोहवा उनकी पत्नी के साथ-साथ देशभर के लोगों को भी खूब भा रहा है। भाए भी क्यों ना आखिर कहां देखने को मिलता है ऐसी ऐतिहासिक विरासत का हूबहू घर।

Leave a comment