Falguni Nayar new Powerful women

Falguni Nayar: भारत की महिलाएं अब हर क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रही हैं। देश में नहीं बल्कि अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी धमक जमा रही हैं। अब तो पूरी दुनिया उनकी काबिलियत का लोहा मानने लगी हैं। हाल ही में सबसे चर्चित अन्तरराष्ट्रीय पत्रिका Forbes ने दुनिया की 100 सबसे ताकतवर महिलाओं की सूची जारी की है जिसमें कई भारतीय महिलाओं के नाम है। इसमें सबसे नया नाम जो जुड़ा है वह है – कॉस्मेटिक ब्रांड नायका की संस्थापिका फाल्गुनी नायर का फाल्गुनी दुनिया की 88वीं अरबपति महिला हैं।

कौन है फाल्गुनी नायर ?

Falguni Nayar

अब सोचने वाली बात है कि इस लिस्ट में कई भारतीय अरबपति महिलाओं के नाम हैं लेकिन फाल्गुनी के नाम की चर्चा ज्यादा क्यूं हो रही है? तो आपको बता दें कि फाल्गुनी शेल्फ मेड महिला अरबपति हैं। फाल्गुनी को विरासत में कोई कंपनी या संपत्ति नहीं मिली थी। इन्होंने अपनी कामयाबी की इबारत खुद लिखी है।

जहां 50 साल की उम्र में लोग रिटायरमेंट की तैयारी करते हैं, महिलाएं दादी-नानी बनने का सुख ले रही होती हैं, तब फाल्गुनी नायर ने बिजनेस शुरू करने का सोचा था। अभी फाल्गुनी 58 वर्ष की हैं। मतलब कि रिटायरमेंट की उम्र आने में केवल दो साल बाकी हैं। लेकिन फाल्गुनी की कुछ और ही प्लानिंग है। तो चलिए जानते हैं कि वह कौन सी चीज है जो फाल्गुनी का इस उम्र में भी प्रेरित कर रही है।

क्या खास है इनमें?

Falguni Nayar

महाराष्ट्र की हैं

फाल्गुनी नायर का जन्म महाराष्ट्र के मुंबई में 19 फरवरी, 1963 को हुआ था। फाल्गुनी नायर की शूरूआती पढ़ाई द न्यू एरा स्कूल से हुई है और आगे की पढ़ाई मुंबई विश्वविद्यालय एवं आईआईएम अहमदाबाद से की है। वहीं, नायर ने बीकॉम और मैनेजमेंट में डिप्लोमा किया है।

निजी जीवन की बात करें तो संजय नायर इनके पति हैं जो कि लाइफस्टाइल रिटेल कंपनी नायका के संस्थापक और सीईओ भी हैं। दोनों के दो बच्चे हैं।

एएफ फर्ग्यूसन एंड कंपनी से की शुरुआत

फाल्गुनी नायर की पहली जॉब एएफ फर्ग्यूसन एंड कंपनी में लगी थी। फिर उसके बाद इन्होंने कोटक महिंद्रा बैंक ज्वॉयन किया जहां उन्होंने लगभग 18 साल तक काम किया। फाल्गुनी कोटक महिंद्रा इन्वेस्टमेंट बैंक की प्रबंध निदेशक के तौर पर जुड़ी थीं और मेहनत के बल पर कोटक सिक्योरिटीज में निदेशक भी बनीं। लेकिन फाल्गुनी को शुरू से अपना कुछ करना था इसलिए उन्होंने कोटक महिंद्रा की नौकरी छोड़ दी। इस नौकरी को छोड़ते वक्त वह 50 वर्ष की थीं।

नायका की शुरुआत

Falguni Nayar owner of Naykaa

यहां से फाल्गुनी के जीवन का दूसरी पारी शुरू होती है। नायका की शुरुआत 2012 में हुई। नायका एक ब्यूटी और पर्सनल केयर से जुड़ी कंपनी है। जब नायका को लॉन्च किया गया था तो उस समय इंडिया में ऑनलाइन कंपनियों का विस्तार ही हो रहा था। लेकिन ये ऑनलाइन कंपनियां, कोई भी ब्यूटी केयर से जुड़े प्रोडक्ट्स की शॉपिंग के लिए महिलाओं को अलग से विकल्प प्रदान नहीं करती थी।
फाल्गुनी ने महिलाओं की इसी जरूरत को समझा और इसे ही अपनी यूएसपी बनाई। फिर क्या था… उन्होंने अपने बिजनेस का ब्लूप्रिंट अपने पति के साथ तैयार किया और एक ऑनलाइन कंपनी के तौर पर नायका को शुरू कर दिया। अब तो नायका खुद में ब्यूटी एंड पर्सनल केयर का भारत में सबसे बड़ ब्रांड बन चुका है।

कितना बड़ा है नायका?

9 साल पहले शुरू हुई इस कंपनी के पूरे भारत में 76 स्टोर खुल चुके हैं। इसका मुख्यालय मुंबई में है। नायका अब फैशन में एपेरल, एसेसरीज़, फैशन, हैंडबैग्स से जुड़े प्रोडक्ट्स भी बेचता है जिसमें 4,000 से ज्यादा ब्यूटी, पर्सनल केयर और फैशन ब्रांड्स शामिल हैं। इसके प्लेटफॉर्म में 2,00,000 प्रोडक्ट तक बेचे जाते हैं। 2018 में कंपनी ने पुरुषों की ग्रूमिंग के लिए भी प्रोडक्ट्स बेचने शुरू कर दिए थे। अब यह मल्टीब्रांड ई-कॉमर्स स्टोर हो चुकी है जिसमें महिलाओं और पुरुषों, दोनों की जरूरत का सामान मिलता है। 2020 में नायका प्रो लॉन्च किया जो ऐप के जरिये प्रीमियम सदस्यता वाले कस्टमर्स को विशेष प्रोफेशनल ब्यूटी प्रोडक्ट और कूपन ऑफर करती है। इसका रेवेन्यू 2,440 करोड़ रुपये है। वर्तमान में नायका धीरे-धीरे क्लोथिंग में भी पैर पसार रही है।

फाल्गुनी नायर टीम

नायका में 2000 से अधिक लोग काम करते हैं जिनको फाल्गुनी लीड करती हैं। इस साल के मिड तक में फर्म के शेयरों में शानदार तेजी आई, जिसके कारण फाल्गुनी नायर की नेटवर्थ  6.5 बिलियन डॉलर से ज्यादा हो गई। इससे वह देश की नई अरबपति महिला बन गई हैं।

स्टॉक एक्सचेंज में किया प्रवेश

नायका स्टॉक एक्सचेंज में भी लिस्टेड हो चुकी है। स्टॉक एक्सचेंज में शामिल होने वाली और यूनिकॉर्न कंपनी बनने वाली नायका देश की पहली महिला-नेतृत्व वाली कंपनी है। अब तो फोर्ब्स ने भी उन्हें दुनिया की 88वीं सबसे ताकतवर महिला घोषित कर दिया है।

Leave a comment

Cancel reply