googlenews
Monsoon in Madhya Pradesh: बारिश में घूम आएं हिन्दुस्तान का दिल: मध्यप्रदेश
Monsoon in Madhya Pradesh

Monsoon in Madhya Pradesh: बारिश के दिनों में कहीं घूमने जाने का मजा ही कुछ और है। यह सुहावना मौसम आपके दिल-ओ-दिमाग को आनंदित कर देता है। और फिर, पेड़-पौधों और नदी-झरनों की खूबसूरती भी देखने लायक होती है। सोचिए आसपास खूब सारी हरियाली हो और आपका कोई खास साथ हो तो आपका घूमना कितना सफल होगा! अगर आप इस मानसून में ऐसी ही कोई सुकून भरी जगह ढूंढ रहे हैं तो भारत का दिल कहे जाने वाले मध्यप्रदेश जरूर जाएं।

सौन्दर्य और शृंगार से सजा खजुराहो

अपूर्व सौन्दर्य और शृंगार से सजा खजुराहो बारिश के दिनों में बेहद खूबसूरत हो जाता है। ओरछा से बस 185 किमी की दूरी पर स्थित हैं खजुराहो के मंदिर। यह असाधारण वास्तुकला और वास्तुशिल्प का अद्भुत उदाहरण है। इसकी दीवारों को सुशोभित करने वाले देवताओं और खगोलीय पिंडों की सुंदर मूर्तियां देखने योग्य हैं। यह कलात्मक दुनिया को भारत का उपहार भी है। आप खजुराहो से लगभग 34 किमी दूर स्थित पन्ना राष्ट्रीय उद्यान के अंदर स्थित एक शांत जलप्रपात पांडव जलप्रपात की यात्रा की योजना भी बना सकते हैं।

प्रेम का साक्षी है मांडू

मांडू या मांडवगढ़ रानी रूपमती और सुलतान बाज बहादुर के प्रेम का साक्षी है। यह जगह राजपूतों के ठाट-बाट और उनके समृद्ध विरासत की कहानी कहता है। बारिश के दौरान यह जगह हरी-भरी हो जाती है और यहां की घाटियां तैरते बादलों से आच्छादित हो जाती हैं। इस शहर की स्थापत्य कला में अफगान प्रभाव दिखाई पड़ता है, जो कि प्रसिद्ध जहाज महल में स्पष्ट है। मांडू में, रानी रूपमती मंडप, होशंग शाह की कब्र और बाज बहादुर पैलेस जैसे विरासत स्थलों में जरूर जाएं। यदि आप यहां जाने का मन बना रहे हैं तो मांडू या मालवा रेसॉर्ट रहने की योजना बना सकते हैं।

नदी किनारे बसा ओरछा

बेतवा नदी के तट पर बसा, ओरछा की शाही इमारतें और राजमहल बुंदेला वास्तुशिल्प को दर्शाते हैं। इस दौरान बेतवा नदी काफी खूबसूरत दिखती है। शहर में एक विशिष्ट मध्ययुगीन आभा है, जो आपको अपनी तरफ आकर्षित करती है। यदि बारिश कुछ दिनों के लिए थमती है तो आप बेतवा में राफ्टिंग का मजा ले सकते हैं। और हां, बूंदाबांदी में कब्रगाह की बेहतरीन तस्वीरें लेना न भूलें।

रोमांटिक जगह है पचमढ़ी

बादलों से घिरा पचमढ़ी का आसमान और वहां की हरियाली इस मौसम में देखने लायक होती है। सतपुड़ा श्रेणियों के बीच स्थित होने और अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण इसे सतपुड़ा की रानी भी कहा जाता है। यह मध्यप्रदेश का सबसे चर्चित हिल स्टेशन माना जाता है। यदि आप एडवेंचर के शौकीन हैं तो पचमढ़ी जरूर जाएं। सतपुड़ा एडवेंचर क्लब जिपलाइनिंग, एटीवी बाइक राइड और बहुत कुछ जैसी साहसिक गतिविधियों की एक विस्तृत शृंखला प्रदान करता है।

Monsoon in Madhya Pradesh: बारिश में घूम आएं हिन्दुस्तान का दिल: मध्यप्रदेश
Pachmarhi is a romantic place

आत्मिक शांति के लिए जाएं अमरकंटक

अपनी आध्यात्मिक यात्रा के लिए एक बार अमरकंटक हो आइए। यह आपके हृदय को प्रसन्नता और सकारात्मकता से भर देगी। ‘तीर्थराज- तीर्थों के राजाÓ के रूप में जाना जाता है। मानसून की बारिश शहर और इसके आसपास के जंगल इसे और आकर्षक बनाते हैं। यहां से पवित्र नर्मदा नदी, सोन और जोहिला नदियां निकलती हैं, अमरकंटक मध्यप्रदेश के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। बारिश पहाड़ों को चीरते हुए कई झरनों को भर देती है, जिनमें दुग्धधारा और कपिलधारा जलप्रपात सबसे शानदार हैं।

झीलों का शहर: भोपाल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल एक बेहद खूबसूरत शहर है। यहां कई छोटी-बड़ी झीलें, जिसकी वजह से इसे ‘झीलों का शहरÓ भी कहा जाता है। यहां का थीम पार्क ‘पीपल्स मॉलÓ पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है। यहां आप दुनियाभर की बेहतरीन जगहों को एक साथ देखने का सपना पूरा का सकते हैं। ठ्ठ

Leave a comment