googlenews
राजस्थानी अंदाज़ में करें घर की साज-सज्जा
Rajasthani Home Decor Tips

Rajasthani Home Decor Tips: हमारा देश भिन्न-भिन्न संस्कृति व तौर-तरीकों के लिए जाना जाता है। हम जब भी किसी राज्य के शहरों में भ्रमण करते हैं तो वहां के कल्चर की छाप अपने दिल में बसा कर लौटते हैं। डेली ज़िंदगी की ज़रूरतों व मजबूरियों के चलते हम उस शहर में बस तो नहीं सकते पर हां वहां की संस्कृति व रंग-ढ़ंग को अपने इर्द-गिर्द शामिल कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर राजस्थान के रंग-बिरंगे मिजाज़ के ज़रिए आप अपने घर को सजा सकती हैं और आने वाले मेहमानों से कह सकती हैंपधारो म्हारे देश ” आइए जानें कैसे लगाएं अपने इंटीरियर में राजस्थानी रंग।

डोर हैंगिंग

घर का मुख्य द्वार केवल सौंदर्य ही नहीं बल्कि वास्तु के अनुसार भी बहुत महत्वपूर्ण होता है। ऐसा माना जाता है कि घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश इसी जगह से होता है इसलिए इसकी साज-सज्जा पर आपका ध्यान ज्यादा क्रेंदित होना चाहिए। मुख्य द्वार में राजस्थानी रंग लाने के लिए आप कलरफुल डोर हैंगिंग्स का इस्तेमाल कर सकती हैं। ओवर बजट या फिर किसी अन्य परेशानी के कारण यदि वाइट वॉश या पेंट नहीं करवा पा रही हैं तो दीवारों पर वॉल पेपर्स का इस्तेमाल करके उन्हें खूबसूरत लुक दे सकती हैं। यदि खुद आर्टिस्टिक हैं तो दीवारों पर राजस्थानी औरतों, रेगिस्तान पर चलते ऊंट जैसे कलात्मक चित्र बना सकती हैं।

राजस्थानी अंदाज़ में करें घर की साज-सज्जा: Rajasthani Home Decor Tips
Door hanging

 राजस्थानी कालीन

गृहस्थी में आए-दिन किसी न किसी ख़र्चे का लगा रहना लाज़मी है, ऐसे में ऊपरी ख़र्चों के लिए अपना हाथ रोकना पड़ता है। घर का फर्श भी उन्हीं में से एक है, पुराना दिखने या टूटने के कारण भी हम उसे इग्नोर कर देते हैं। इस पुराने फर्श को नया दिखाने के लिए आप राजस्थानी वर्क वाले कालीन का इस्तेमाल कर सकती हैं। हाथी, मोर, ऊंट व पारंपरिक धरोहर की कलाकृति से सजे ये कालीन घर के नक्शे को पलट कर रख देंगे। इसके अलवा डिफरेंट-डिफरेंट व कलरफुल पैचस वाले कालीन भी काफी सुंदर लगते हैं।

चादर व कुशन

 मारवाड़ी प्रिंट वाली राजस्थानी चादर बहुत ही कलरफुल होती हैं जिस कारण कमरे की रौनक दोगुनी हो जाती है। इन चादरों के संग कढ़ाई किए गए व मोतियों व शीशे से सजे कुशन बहुत ख़ूबसूरत दिखते हैं।

पफ

बच्चों व बड़ों दोनों के पसंदीदा बीन बैग चेयर का पारंपरिक रूप हैं… राजस्थानी पफ। कपड़े के बने हुए इन पफ पर राजस्थानी मिरर वर्क व ट्रेडिशनल आर्ट की गई होती है। इनके अंदर पुराने कपड़े या प्लास्टिक भर के आप इनका इस्तेमाल घर में बैठने वाली चेयर्स या मूढ़े के रूप में कर सकती हैं। ये काफी उचित मूल्य पर उपलब्ध हो जाते हैं और घर की शोभा बढ़ाते हैं।

राजस्थानी अंदाज़ में करें घर की साज-सज्जा: Rajasthani Home Decor Tipsराजस्थानी अंदाज़ में करें घर की साज-सज्जा: Rajasthani Home Decor Tips
Puff

 ये भी पढ़ें –

हॉट समर के 5 कूल कर्टेन्स स्टाइल

पुराने बर्तनों से घर की साज-सज्जा, ऐसे डिफरेंट दिखेगा आपका आशियाना

फिट है फ्लोरल फर्नीचर का आइडिया, जानें कैसे दें फर्नीचर को फ्लोरल टच

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।