googlenews
अमेरिका

 

 

भारत के इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार को कड़ी टक्कर देने के बाद चीन की स्मार्टफोन कंपनियां अपने सस्ते लेकिन बेहतरीन फीचर्स से भरपूर फोन की बदौलत घरेलू स्मार्टफोन बाजार पर तेजी से कब्जा जमा रही हैं। चीनी कंपनियां लुभावनी नीतियों और बेहतरीन रणनीति के साथ भारतीय ग्राहकों का ध्यान खींच रही हैं। कम कीमत में आकर्षक फीचर्स और बेहतरीन डिजाइन वाले ये चीनी स्मार्टफोन युवाओं में काफी लोकप्रिय भी हैं।

कीमत बना मुख्य कारण

भारत इस बाजार के ऊभरने के पीछे मुख्य कारण यह माना जा रहा हैं कि स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियां सस्ते स्मार्टफोन की पेशकश कर रही हैं। ऐसे में भारत में स्मार्टफोन का प्रसार तेज गति से हो रहा है।

ऑनलाइन बिक्री का भी पड़ा असर

देश में बिकने वाले कुल स्मार्टफोन में से लगभग 40 प्रतिशत तो पहले ही 4जी टेक्नोलॉजी वाले हैं। विशेषज्ञों की मानें तो 2018 तक देश में नौ करोड़ 4जी यूजर्स तथा 18 करोड़ 4जी स्मार्टफोन होने की उम्मीद है। स्मार्टफोन की लगातार बढ़ती बिक्री में एक बड़ा योगदान ऑनलाइन बिक्री का है। विशेष छूटों व अन्य पेशकशों के साथ केवल ऑनलाइन उपलब्धता से भी कुल बिक्री में ई-कामर्स के जरिए होने वाली बिक्री का योगदान बढ़ा है।

सैमसंग ने मारी बाजी

कुल बाजार में सैमसंग पहले नंबर पर है। 2015 में उसकी बाजार में हिस्‍सेदारी 16 प्रतिशत, जबकि माइक्रोमैक्‍स की 14 प्रतिशत, नोकिया अब सैमसंग की 11 प्रतिशत, लावा की 10 प्रतिशत व कार्बन की आठ प्रतिशत बाजार हिस्‍सेदारी रही है।