googlenews
कितनी कैलोरीज़

यदि आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो आप का समय पर भोजन करना बहुत आवश्यक होता है। न केवल विज्ञान बल्कि आयुर्वेद भी इस बात से सहमत है कि स्वस्थ रहने व वजन कम करने के लिए आप का स्वस्थ भोजन खाने के साथ साथ समय पर भोजन खाना भी जरूरी होता है। यदि आप वजन कम करने के लिए बहुत मेहनत करते हैं और भोजन बहुत देर से करते हैं तो आप की सारी मेहनत मिट्टी में मिल जाती है। 

चाहे आप दिन में छोटी छोटी 6 मील खाते हैं या फिर 3, उनका समय पर खाना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि आपके शरीर को भोजन पचाने के लिए भी समय की जरूरत होती है। अपने इतने व्यस्त शेड्यूल में खाने का समय निकालना भी मुश्किल हो जाता है और इसलिए हम जब भी समय मिलता है तभी भोजन कर लेते हैं। यह नहीं देखते कि यह समय सही है या नहीं और इस वजह से वजन घटने की बजाय बढ़ जाता है। 

लंच करने का कौन सा समय सही है?

रिसर्चों के मुताबिक यदि आप 3 बजे के बाद अपना दोपहर का भोजन करते हैं तो आपके वजन घटने की गति बहुत कम हो जाती है अर्थात् आप को परिणाम बहुत देर से मिलेंगे क्योंकि हमारे शरीर की कोशिकाओं में एक परलीपिन नामक तत्त्व होता है जो कि फैट बर्न करने में सहायक होता है। यदि आप 3 बजे के बाद भोजन करते हैं तो हो सकता है आप के शरीर का परलिपिन तत्त्व वजन घटाने में असर न दिखाए। अतः 3 बजे से पहले अपना लंच अवश्य करें। केवल बहुत कम लोगो में ऐसा होता है कि यदि वे 3 बजे के बाद भी लंच करते हैं तो भी उनके वजन में कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। 

 सर्कैडियन लय ,कितनी कैलोरीज़

क्या आप जानते हैं सर्कैडियन लय क्या होती है यह एक प्रकार की गतिविधि है जो आपके खाने और सोने की क्रिया को नियंत्रित करती हैं जिससे आपका वजन बढ़ना या बैलेंस रहना प्रभावित होता है। विशेषज्ञों के अनुसार 1 मील से दूसरे में में कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 4 घंटे का गैप होना उचित है इस तरह से आपके शरीर की सारी क्रिया नियंत्रित रहती हैं और समय पर भोजन पचता है। एक शोध के अनुसार आपको दिन में 3:00 बजे से पहले लंच कर लेना चाहिए और यदि आप रात को डिनर नहीं करते हैं तो अपना कैलोरी युक्त भोजन दिन में करना ही सही है। यही नहीं आपके रोजाना जरूरत का 50% भोजन दोपहर में और नाश्ते में 15% और स्नेक के रूप में भी 15% व रात के खाने का 20% सेवन करना चाहिए।

भोजन का समय व सोना

हमारे शरीर की आंतरिक क्रियाएं हमारे सोने व खाने पर निर्भर करती हैं जोकि वजन कम करने को भी प्रभावित करती हैं। यह क्रियाएं जैसे खाना व सोना हमारे शरीर में इंसुलिन की मात्रा को भी तय करता है। यदि आप उस समय भोजन करते हैं जब आपका शरीर इंसुलिन के लिए बहुत कम सेंसिटिव होता है तो उस समय आप का शरीर एक्स्ट्रा फैट को बर्न नहीं कर पाता जिस वजह से आप का वजन नहीं घटता।

आपके हर कोशिश करने के बाद भी यदि आप का वजन कम नहीं हो रहा है तो उसका एक कारण समय से भोजन न करना भी हो सकता है। यदि आप सच में चाहते हैं कि आप का वजन कम हो तो कोशिश करें कि अपना दोपहर का भोजन 3 बजे से पहले कर लें।

यह भी पढ़ें-

क्रेश डाइट के क्या  साइड इफेक्ट्स होते हैं

खाना पकाते समय रखें कुछ खास बातों का ध्यान