जेली खाने के लिए एक बहुत अच्छा और स्वादिष्ट डेजर्ट है। हर कोई इसे खाना पसंद करता है और प्रेग्नेंसी के दौरान तो महिलाओं का इसे खाने का लालच अधिक बढ़ जाता है। लेकिन महिलाओं को अपने और अपने बच्चे की सुरक्षा के लिए हर चीज को खाने से पहले एक बार यह जान लेना चाहिए कि वह चीज सुरक्षित है भी या नहीं। ऐसा ही जेली के केस में भी है। अगर आपका जेली खाने का मन कर रहा है तो आपको एक बार यह ख्याल मन में जरूर आता होगा कि यह चीज मेरे और मेरे बच्चे के लिए सुरक्षित तो है। अगर आप इस को लेकर दुविधा में हैं तो चिंता न करें। आज हम आपको बताने वाले हैं कि क्या आप प्रेग्नेंसी के दौरान जेली खा सकती हैं या आपको इसे अवॉइड करना चाहिए? आइए जानें।

क्या प्रेग्नेंसी के दौरान जेली खाना सुरक्षित है?

जी हां आप प्रेग्नेंसी के दौरान जेली खा सकती हैं और यह आपके लिए बिल्कुल सुरक्षित है। इसे आप कुछ चीजों में शामिल करके अपनी डाइट में ले सकती हैं। केवल यही नहीं बल्कि जेली खाने से आप को बहुत से स्वस्थ लाभ भी मिलते हैं इसलिए आपको इन दिनों में जेली जरूर खानी चाहिए लेकिन केवल सीमित मात्रा में। अगर आप इसका सेवन अधिक मात्रा में करेंगी तो आपको कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिल सकते हैं लेकिन पहले हम जेली से होने वाले लाभों के बारे में बात कर लेते हैं।

पाचन में सहायक:

जेली फलों द्वारा बनी होती है और इसमें फाइबर भी होता है जो आपके पाचन के लिए बहुत लाभदायक होता है। फाइबर आपके पाचन तंत्र को अच्छे से काम करने में सहायता करता है और यह कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी नियंत्रित रखता है।

आपका पेट भरा रखती है:

जेली का सेवन करने से आपका पेट आसानी से भर जाता है और आपको बहुत देर तक भूख भी नहीं लगती है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को बहुत सी चीजें खाने की क्रेविंग होती हैं और अगर आप जेली खायेंगी तो आपकी क्रेविंग भी शांत हो सकती हैं।

विटामिन्स से होती है भरपूर: जेली में बहुत सारे फल होते हैं और जेली में विटामिन सी और बी की अच्छाई भरी होती है। यह विटामिन्स प्रेग्नेंसी के दौरान आपकी इम्यूनिटी बढ़ाते हैं और अगर आपको कहीं चोट आई है तो उसके घाव भरने में भी लाभदायक है। यह आपके दांतों और मसूड़ों की सेहत के लिए भी बहुत अच्छी होती है।

वाइटल मिनरल की सप्लाई करती है:

फ्रूट जेली में बहुत सारे मिनरल और पोषक तत्त्व होते हैं जो प्रेगनेंट महिलाओं के लिए लाभदायक हो। यह आपको पोटैशियम, आयरन, जिंक, मैग्नेशियम आदि प्रदान करती है। इसमें कैल्शियम भी होता है जो आपके बच्चे की हड्डियां मजबूत बनाने में मदद करता है। पोटेशियम आपके ब्लड प्रेशर को नियमित रखने में मदद करता है और आयरन आपके खून को ऑक्सीजन पहुंचने में मदद करता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाली समस्याओं से निजात दिलाता है:

अगर प्रेग्नेंसी के दौरान आप जेली का सेवन करती हैं तो आप न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट जैसी बहुत सी समस्याएं से बच सकती हैं।

आपके नर्वस सिस्टम की सेहत को बढ़िया रखती है:

अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेन और नर्वस सिस्टम को मजबूत करना चाहती हैं तो जेली का सेवन जरूर करें।

स्ट्रेस कम करने में सहायक:

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको बहुत सी चीजों को लेकर स्ट्रेस रहती है और जेली का सेवन करने से आपको स्ट्रेस से राहत मिल सकती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान जेली खाना लाभदायक तो होता है लेकिन अगर आप इसे बहुत अधिक मात्रा में खा लेती हैं तो आपको छाती में टाइटनेस, जी घबराना, खांसी, गलें में दर्द होना, स्किन पर रैश होना जैसे साइड इफेक्ट्स देखने को भी मिल सकते हैं। इसलिए आपको केवल सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करना चाहिए ताकि आप और आप का बच्चा सुरक्षित रह सकें और आप को जेली की वजह से किसी प्रकार का खतरा न उठाना पड़े।

यह भी पढ़ें-

महिलाओं और पुरुषों में सेक्स और वर्जिनिटी की धारणा को बदलने की जरूरत है