बेडरूम,किचन या कमरे के पायदान में से क्या सुरक्षित है और क्या नहीं, आपके बढ़े हुए पेट के साथ कौन सी मुद्राएं ठीक रहेंगी, आप दोनों के मूड एक साथ क्यों नहीं बनते, इन सब बातों के साथ प्रेगनेंसी सेक्स काफी चुनौतीपूर्ण हो जाता है लेकिन चिंता न करें। थोड़ी सी सृजनशीलता,थोड़ी सी हास्य प्रियता और ढेर से धैर्य के साथ आप प्रेगनेंसी सेक्स को भी पहले से ज्यादा आकर्षक बना सकती हैं।

सेक्स का कौन सा तरीका सुरक्षित रहेगा आइए जानें :‒

मुख मैथुन (ओरल सेक्स) :- ओरल सेक्स से कोई नुकसान नहीं होगा बस साथी से कहें कि वह आपके गुप्तांगों में जोर से हवा न फूंकें। यदि इंटरकोर्स की इजाजत न हो तो इससे दोनों आनंद ले सकते हैं। बशर्ते साथी को कोई एस टी डी रोग न हो।

गुदा मैथुन (एनल सेक्स) :- यदि आप करना चाहें तो यह भी सुरक्षित है लेकिन थोड़ी सावधानी रखें। वहाँ के लिए भी कंडोम लगाएं। गुदा से योनि मैथुन की ओर जाने से पहले साफ कर लें वरना हानिकारक बैक्टीरिया योनि मार्ग से भीतर जा सकते हैं व शिशु को संक्रमण का खतरा हो सकता है।

अगले पेज पर पढ़ें सेक्स का आनंद

हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) :- यदि गर्भावस्था खतरे वाली हो या आर्गैज्म भी मना हो तो हस्तमैथुन किया जा सकता है। यह पूरी तरह सुरक्षित है इससे आपका सारा तनाव दूर हो जाएगा।

वाइब्रेटर :- यदि डॉक्टर आज्ञा दें तो आप योनि में उत्तेजना के लिए वाइब्रेटर इस्तेमाल कर सकती हैं बस उसे ज्यादा भीतर न ले जाएं आपके सेक्स टॉय साफ होने चाहिए। इस तरह यांत्रिक तरीके से भी सेक्स का आनंद लिया जा सकता है।

ये भी पढ़ें –

गर्भावस्‍था में यात्रा के दौरान रखें इन बातों का ख्याल

गर्भावस्था के दौरान सीट बेल्ट लगाना है जरूरी

गर्भावस्था में पेट व पीठ के बल सोना ठीक नहीं

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।