दांतों की समस्या

1. मसूड़ों की सूजन 2. दांतों की सड़न 3. पायरिया 4. दांतों में झनझनाहट 5. बदबूदार सांस 6. दांतों का दर्द 7. दांतों में कीड़ा लगना 8. दांतों से खून आना। इन सब में।

दांत का दर्द

दांतों का दर्द कहते हैं सभी तरह के दर्दों में असहनीय माना जाता है। कितनी बार तो दांत दर्द का कारण भी समझ नहीं आता है, दांत दर्द दांतों से शुरू होकर सिर तक जाता है दांतों का दर्द जानलेवा न होकर भी प्राणों को संकट में डालने वाला ही माना गया है। अगर अचानक दांतों में दर्द उठ जाये तो प्राय: अदरक के टुकड़ों को पीसकर दांतों के नीचे दबाकर रखने से दर्द से आराम मिलता है।

मुंह के छाले

तुलसी के पत्ते चबाएं सुबह शाम, टमाटर का रस पीएं रोज।

● छोटी हरण को पीस कर दांतों में लगाने से भी छालों में फायदा होता है।

● रात में खाने के बाद छोटी हरण चूसने से भी छाले दूर होते है व आंतें भी मजबूत होती हैं।

मुंह की बदबू

● खाने के बाद लौंग चूसें।

● खाने केबाद गुलाब की पंखुड़ियां चबायें इससे बदबू दूर होगी व मंसूड़े मजबूत होंगे पायरिया की समस्या दूर होगी।

● खाना खाने के बाद सौंफ चबाएं इससे न केवल बदबू दूर होगी बल्कि वाणी भी मधुर होगी।

● टमाटर के रस में पानी मिलाकर कुल्ला करने से भी बदबू दूर होती है।

● कपूर को बारीक लें फिर इसके पानी से कुल्ला करें इससे भी बदबू दूर होती है।

अन्य सुझाव

दांतों की सभी बिमारियों के लिए सैंधा नमक प्राय: रामबाण है। बारीक सैंधा नमक को दांतों पर रगड़ने से सभी तरह की पीड़ा दूर होती है व सरसों के तेल में नमक मिलाकर दांतों की मालिश करने से भी दांतों से खून आना बदबू आना आदि परेशानी दूर होती है। इससे दांतों का हिलना गर्म खट्ïटा लगना भी दूर होता है। इससे कालापन व पीलापन भी दांतों का दूर हो जाता है। पायरिया का भी निदान होता है।

सावधानी

दांतों की परेशानी से बचने के लिए रोज सुबह शाम दांतों को मुलायम ब्रश से साफ करें।

● अधिक गर्म व अधिक ठंडे पदार्थों का सेवन न करें। ● गर्म खाने के तुरंत बाद ठंडा ना खाएं।

● दांतों की सफाई का विशेष ध्यान रखें। साथ ही कुछ विशेष उपायों को निरंतर आजमाएं।

उपाय

एक कप पानी में आधा चम्मच सेंधा नमक मिलाकर कुल्ला करें, ऐसा रोज सोने से पहले करें।

● प्रात:काल नीम की लकड़ी से दातून करना भी लाभकारी होता है।

● सरसों के तेल में बारीक हल्दी मिलाकर रात को सोने से पूर्व व प्रात:काल मालिश करने से पायरिया, दांतों में दर्द, सूजन, ठंडा गर्म लगना, खून आना जैसी बिमारियों में कुछ दिनों में ही राहत मिल जाती है।

● इलायची का रस भी दांतों की जड़ों में लगाने से दांत मजबूत हो जाते हैं।

● काली मिर्च के पाउडर से दांतों का क्षय यानी कैविटी में राहत मिलती है।

● चंदन की लकड़ी को कपूर के तेल में भिगोकर दांत के नीचे रखने से दांतों का दर्द सही हो जाता है।

● लौंग का रस ना केवल दांतों की बदबू दूर करता है बल्कि दर्द व खून का बहना भी कम करता है।

● दांतों में लगी कैविटी के दर्द को दालचीनी के तेल से कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें –अनियमित पीरियड के लक्षण और उपचार

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें-editor@grehlakshmi.com