googlenews
अंडे

 

वर्षा ऋतु का आगमन जहां हरियाली व खुशहाली लाता है, वहीं ऋतु के असर से वर्षा काल के दिनों में बालों संबंधित समस्याएं जैसे- बालों का झड़ना आदि उत्पन्न हो जाती हैं इसलिए इस मौसम में जरूरी हो जाता है कि बालों की देखभाल उचित रूप से की जाए। वह कैसे? आइए जानें- 

  • इस ऋतु में बालों की नियमित रूप से सफाई करनी चाहिए। 2 चम्मच कैस्टर आॅयल, 2 चम्मच आंवला, 2 चम्मच शिकाकाई, 2 अंडे तथा 2 चम्मच नीम की पत्तियों का पेस्ट लें। इन सबको मिक्स करकेबालों की जड़ों में लगाकर 45 मिनट तक रहने दें। इसके बाद बालों को शैंपू करें।
  • वर्षा ऋतु में बालों की लंबाई छोटी रखें, इससे उन्हें ज्यादा आॅक्सीजन मिल सकेगी और वे संभल भी सकेंगे ।
  • वर्षा ऋतु में बालों में तेल लगाने के बाद गरम पानी में भीगे तौलिए को निचोड़कर सिर पर लपेटें।
  • बालों में मेंहदी लगाने से भी फायदा होगा। वर्षा ऋतु में मेंहदी को कंडीशनर के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं। इसमें एक चम्मच सरसों का तेल मिलाकर एक घंटे तक लगाएं, फिर धो लें।
  • रासायिक पदार्थों, डाई तथा हेयर ड्रायर का प्रयोग कम से कम करें। वर्षा ऋतु में गीले हुए बालों को पोंछकर सुखा लें और गीले बालों में कंघी न करें।
  • बालों की चिकनाहट और चिपचिपाहट दूर करने के लिए हफ्ते में कम से कम चार बार बालों को किसी अच्छे शैंपू से धोंए।
  • बेजान बालों में जान लाने के लिए शैंपू करने के बाद किसी हल्के कंडीशनर का प्रयोग करें।
  • बालों के लिए फैंसी वर्मिगं, केमिकल उपचार या ऐसा हेअर स्टाइल ना बनाएं, जिसमें ज्यादा देखभाल की जरूरत हो।
  • इस मौसम में हेअर स्प्रे न लगाएं। 
  • बालों को बांध कर रखें।
  • हेअर ड्रायर का इस्तेमाल कम करें।
  • बालों को संवारते समय खुले दांतों वाला ब्रश प्रयोग में लाएं।
  • हेअर जैल का इस्तेमाल भूलकर भी न करें।
  • बारिश से अगर बाल गीले हो गए हैं तो गीले बालों में कंघी न करें, बल्कि बालों को पोंछकर सुखा लें।
  • घुंघराले बालों पर काबू पाने के लिए बालों पर पानी का छींटा मारकर बड़े बैल्को रोलर लगा लें। ऊपर से शावर कैप पहनकर भाप लें। इससे बालों को बैठाने में मदद मिलती है।
  • बारिश का पानी पड़ने से सिर में जुंए हो जाते हैं, इसलिए जुओं पर काबू पाने के लिए सरसों के तेल में कपूर मिलाकर सिर की मालिश करें।
अंडे
भीगे मौसम में अब डर कैसा 3