Posted inहोम

हुनर से बनाएं जिंदगी की राह आसान

जिंदगी के एक पड़ाव पर आकर जैसे जिंदगी थम सी जाती है। बच्चे अपने करियर बनाने में रम जाते हैं और पति अपने व्यवसाय में। इस उम्र में आकर महिलाएं जिंदगी में सूनापन और खालीपन महसूस करने लगती हैं। कुछ तो वहीं कुछ रोजमर्रा के काम में बंध कर बोर होने लगती है।