टेस्टोस्टेरोन एक सेक्स हार्मोन होता है और यह पुरुषों में पाया जाता है। यह मसल्स, बोन मास, बॉडी हेयर के विकास के लिए भी जिम्मेदार होता है। यह पुरुषों में सेक्स ड्राइव को कंट्रोल करता है। अगर किसी के शरीर में यह हार्मोन अपने सामान्य लेवल्स से कम हो जाता है तो उनकी सेक्स लाइफ पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है और उनकी सेक्स ड्राइव भी कम हो सकती है। इसके कम होने के बहुत से कारण हो सकते हैं। अगर आप अपने टेस्टोस्टेरोन लेवल को बढ़ाना चाहते हैं तो बाजार में इसके लिए ढेरों उपचार उपलब्ध हैं और कुछ दवाइयां भी आप इसे बढ़ाने के लिए खा सकते हैं।

लेकिन दवाइयों के असर कम और साइड इफेक्ट्स अधिक होते हैं इसलिए आपको किसी प्राकृतिक उपचार की तलाश में ही रहना चाहिए। आज हम आपके लिए कुछ ऐसे प्राकृतिक तरीके ले कर आए हैं जिनके द्वारा आपके टेस्टोस्टेरोन लेवल तो बढ़ेंगे ही साथ में यह आपको किसी प्रकार का साइड इफेक्ट भी नहीं देंगे। यह उपचार आपकी डाइट से ही जुड़े हुए हैं इसलिए इन्हें अपने रूटीन में शामिल करना और अधिक आसान होगा। तो आइए जानते हैं इन तरीकों के बारे में।

 

प्याज और लहसुन को अपनी डाइट में शामिल करें:प्याज और लहसुन का प्रयोग भारतीय रसोइयों में लगभग हर डिश में किया जाता होगा इसलिए आपको भी वही चीजें खानी चाहिए जिनमें लहसुन और प्याज अधिक हो। इनके कारण आपके स्पर्म का लेवल बढ़ता है और यह उन हार्मोन्स को बढ़ाते हैं जो आपके टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाने में मदद करते हैं। इनमें प्राकृतिक प्लांट केमिकल जिसका नाम फ्लेवोनॉयड होता है वह पाया जाता है जिस कारण यह सुरक्षित होते हैं।

 

प्रोटीन से युक्त चीजों को करें शामिल:कोशिश करें कि रोजाना आप 5 से 6 आउंस प्रोटीन को अपनी डाइट में शामिल कर रहे हों। प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा को पूरा करने के लिए आप लीन मीट, चिकन, फिश, अंडे, टोफू, नट्स आदि चीजों को अपनी डाइट में शामिल करें। अगर आप प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में ग्रहण नहीं करते हैं तो आपके शरीर में इस वजह से भी टेस्टोस्टेरोन के लेवल कम हो सकते हैं।

 

मछली खाएं : कुछ ऐसी मछलियां खाएं जिनमें फैटी एसिड, ओमेगा 3 और विटामीन डी भरपूर मात्रा में शामिल हो। यह प्राकृतिक रूप से एक तरह का टेस्टोस्टेरोन बोस्टर मानी जाती हैं और यह हार्मोन प्रोडक्शन में एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। आप साल्मन, टूना, मैकेरल मछली को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 

अधिक मैग्नेशियम वाली चीजें खाएं:यह मिनरल उस प्रोटीन को ब्लॉक कर देता है जो टेस्टेस्टरोन को बाइंड करता है। इसलिए आपको अधिक से अधिक वह चीजें खानी चाहिए जो मैग्नेशियम से युक्त हों। पालक में अधिक मात्रा में मैग्नेशियम होता है इसलिए उसे अपनी डाइट में शामिल करें और इसके साथ ही बादाम और काजू को भी डाइट में शामिल करें।

 

अनार भी होता है लाभदायक:आप अपने दिन की शुरुआत अनार के जूस के साथ कर सकते हैं। यह स्ट्रेस हार्मोन के लेवल्स को कम करता है और इसकी बजाए सेक्स हार्मोन्स को बढ़ाता है जिसमें टेस्टेस्टरोन भी शामिल होता है। यह आपके ब्लड प्रेशर को भी कम करता है और आपके मूड को भी अच्छा रखता है।

 

मेडिटेरेनियन डाइट का करें पालन:अगर आप इस प्रकार की डाइट को फॉलो करते हैं तो इससे आपका वजन नियंत्रण में रहता है और यह आपको इंसुलिन रेजिस्टेंस से भी बचाती है। जब आपके टेस्टोस्टेरोन लेवल लो होते हैं तो आपके शरीर में फैट लेवल बढ़ जाते हैं और आपका शरीर इंसुलिन को अच्छे से प्रयोग नहीं कर पाता है। इस डाइट से यह साइकिल टूटती है। आप ऑलिव ऑयल, एवोकाडो और नट्स ट्राई कर सकते हैं।

 

प्लास्टिक का प्रयोग न करें:अगर आप बचे हुए खाने को स्टोर करने के लिए प्लास्टिक का प्रयोग करने की बजाय स्टील के बर्तन या शीशे के बर्तन में स्टोर करें।

 

अगर इन सभी टिप्स का पालन करेंगे तो आप आराम से अपने टेस्टोस्टेरोन को बढ़ा सकेंगे और इससे आप को कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते हैं।

यह भी पढ़ें- लो ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल करने के लिए इन जरूरी 12 बातों का रखें ख्यालप्रीमेंस्ट्रूअल सिंड्रोम के लक्षण