जब हम किसी के प्यार में होते हैं, तो हमारी पूरी दुनिया खुशनुमा हो जाती है। हमें लगता है कि बस यह वक्त यूं ही चलता रहे। लेकिन जिन्दगी में हमेशा वैसा नहीं होता, जैसा कि हम सोचते हैं। कई बार चीजें ठीक नहीं चलतीं और आपका प्यार भरा रिश्ता टूट जाता है। ब्रेकअप के बाद उसके दर्द से उबर पाना इतना भी आसान नहीं होता। रह-रहकर एक्स-पार्टनर की याद आती है, किसी काम में मन नहीं लगता और बेहद दुख होता है। हो सकता है कि आप बैठे-बैठे उदास हो जाएं या फिर यूं ही किसी बात पर रोने लग जाएं। ऐसा होना स्वाभाविक है। दरअसल, जब आप किसी से इमोशनली जुड़ी होते हैं तो उससे अलग होने का गम भुला पाना यकीनन बेहद मुश्किल होता है। लेकिन वो कहते हैं ना कि जिन्दगी किसी के जाने से नहीं रूकती। इसलिए, आपको भी इस गम से उबरने के लिए कुछ टिप्स अपनाने की जरूरत है। जिसके बारे में आज हम आपको बता रहे हैं-

कारणों पर करें फोकस

 

 

अगर आपको अपने पार्टनर की याद बार-बार सता रही है तो अपने दर्द को कम करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप साथ बिताए गए पलों को याद करने की जगह उन वजहों को याद करें, जिनकी वजह से आपका ब्रेकअप हुआ है। यकीनन आपके पार्टनर में ऐसी कई चीजें होंगी, जिनके साथ आप शायद कभी ना रहना चाहें। इसलिए अगर आप परेशान हैं तो खुद से यह सवाल करें कि क्या आप उन सभी चीजों के साथ अपनी जिन्दगी बिता सकते हैं। आपके सवाल का जवाब ही आपके मन की बैचेनी को दूर कर देगा।

खुद पर करें काम

ब्रेकअप के बाद पार्टनर की सबसे ज्यादा याद तब आती है, जब आप खाली होती हैं। ऐसे में पुरानी यादों का पिंजरा आपको कैद कर लेता है। ऐसे में उस कैद से आजाद होने का तरीका है कि आप खुद पर काम करें। दरअसल, इस समय आप खुद को बेहतर बनाने पर जोर दें। इससे आपको एक नहीं, बल्कि लाभ होते हैं। सबसे पहले तो आप बिजी हो जाती हैं तो इससे पार्टनर की याद कम आती है। वहीं दूसरी ओर, आपका फोकस भी बदलता है। दरअसल, आप नई चीजों को समझने व जानने में लग जाते हैं तो यादें आपको कम सताती हैं। साथ ही आपके भीतर एक सकारात्मकता का भी संचार होता है। इतना ही नहीं, खुद पर काम करने से आप पहले से कहीं अधिक बेहतर इंसान बनते हैं।

खुद को दें ट्रीट

रिलेशनशिप में रहते हुए हम खुद से ज्यादा अपने पार्टनर पर अधिक फोकस करते हैं। उसकी खुशियों का ध्यान रखकर व उसकी केयर करके ही हमें खुशी मिलती है। रिलेशनशिप में अधिकतर लोग खुद को भूल जाते हैं। शायद यही कारण है कि ब्रेकअप के बाद आपको पार्टनर की बहुत अधिक याद सताती है। ऐसे में ब्रेकअप के दर्द से उबरने का एक बेहतरीन तरीका है कि आप खुद को थोड़ा पैम्पर करें। हो सकता है कि अन्दर ही अन्दर आपका ऐसा करने का बिल्कुल मन ना हो, लेकिन फिर भी इस स्टेप को जरूर अपनाएं। ऐसा करने से आपको बेहद अच्छा लगेगा। साथ ही आपको यह भी समझ आएगा कि अब तक आप खुद को कितना इग्नोर कर रहे थे।

विश्वासपात्र से करें शेयर

 

 

शायद आपने कभी नोटिस किया हो कि जब आप किसी गम या दुख को अपने मन में दबाकर रखते हैं तो इससे वह दुख आपको अधिक परेशान करता है। इतना ही नहीं, इससे आप खुद को अधिक बोझिल महसूस करते हैं। इसलिए ब्रेकअप के बाद उसके दर्द से उबरने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने किसी दोस्त या विश्वासपात्र से इस बारे में बात करे। जब आप अपने मन के दुख को बाहर निकाल देते हैं तो इससे आप खुद को भावनात्मक रूप से हल्का महसूस करने में मदद मिलेगी। हालांकि, जब आप अपने दिल की बात करें तो यह जरूर सुनिश्चित करें कि आप उन लोगों से ही बात करें, जिन पर आपको पूरा भरोसा है। वहीं, अगर आप किसी करीबी से बात करने में झिझक रहे हैं तो ऐसे में एक काउंसलर से भी बात कर सकते हैं। इससे आपका मन तो हल्का होगा ही, साथ ही वह आपको इस स्थिति से बाहर निकालने में भी मदद करेगा। ध्यान रखें कि अगर आपके अंदर किसी भी तरह की कड़वाहट होगी तो इससे आपको ही नुकसान होगा। इसलिए आगे बढें और अपने मन की सारी कड़वाहट को दूर कर दें।  

अपनी पसंदीदा चीजों का रूटीन बनाएं

जब आप किसी के प्यार में पड़ते हैं तो जिन्दगी में काफी कुछ बदल जाता है। आप अपनी पसंदीदा चीजों को छोड़कर अपने प्यार को अधिक से अधिक समय देना चाहते हैं। लेकिन ब्रेकअप के बाद आप एक बार फिर से अपनी पुरानी पसंदीदा चीजों से प्यार करें और उन्हें अपने रूटीन का हिस्सा बनाएं। ऐसी गतिविधियों में शामिल हों जो आपके दिमाग को व्यस्त रखें। यदि आप पेंटिंग करना पसंद करते हैं तो एक कैनवास लेकर शुरू हो जाएं। अगर आपको डांस करना पसंद है तो कोई डांस क्लॉस ज्वाइन करें। बेहतर होगा कि आप अपनी हॉबी को एक बार फिर से जीवंत करें। यह ना सिर्फ आपको अपने बिखरे रिश्ते के दर्द से बाहर आने में मदद करेगा, बल्कि इससे आपको मानसिक रूप से भी एक अजीब सी शांति प्राप्त होगी।

यह भी पढ़ें –  आई लव यू बोले बिना कुछ इस तरह जताएं अपना प्यार

रिलेशनशिप संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही रिलेशनशिप से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें – editor@grehlakshmi.com