अगस्त का महीना आया नहीं कि हमें सबसे पहले याद आता है एक खास दिन फ्रेंडशिप डे। अगस्त के पहले रविवार को मनाया जाने वाला ये खास दिन उन दोस्तों के नाम होता है जो हर पल हमारे साथ होते हैं। कुछ ऐसे दोस्त जो हमारे लिए कुछ भी कर गुजरते हैं। आमतौर पर हम दोस्ती ऐसे लोगों से करते हैं जिनके विचार या आदतें हमसे मिलती जुलती हैं, और दोस्ती का ये खास बंधन कुछ खास लोगों के साथ ही बन पता है। किसी व्यक्ति विशेष से अपने हर ख़ुशी और ग़म को शेयर करना, ज़रुरत पड़ने पर उसके लिए जान तक न्योछावर कर देने का जज़्बा रखना और उसे किसी भी गलत रास्ते पर जाने से रोकने का नाम ही दोस्ती है। एक टाइम था जब दोस्ती किसी से आमने -सामने मिलकर, एक दूसरे से बात-चीत करके ही होती थी। फिर समय बदला और  हाईटेक् टेक्नोलॉजी ने दोस्ती  को भी हाईटेक् बना दिया। चलन हुआ सोशल मीडिया का तो दोस्ती भी सोशल मीडिया में सिमटने लगी। लेकिन कभी आपने  इस बात पर चिंतन किया है कि ऑनलाइन दोस्ती सुरक्षित है भी या नहीं, जिससे हम ऑनलाइन बातें कर रहे हैं वो कहीं आपका फायदा तो नहीं उठा रहा या फिर ऑनलाइन बैठा चैटिंग करने वाला दोस्त क्या सही में दोस्ती की अहमियत समझता है। सोशल मीडिया पर दोस्ती करने से पहले रखें कुछ बातों का ख्याल और दोस्ती के रिश्ते को और ज़्यादा मजबूत बनाएं। 
 
  • सोशल मीडिया पर दोस्ती करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप अपने और दोस्तों को भूलकर सिर्फ ऐसे दोस्त के लिए अपना टाइम न बर्बाद करें जिसे आपने देखा तक नहीं है। उसके ऑनलाइन आने की उम्मीद में बार -बार ऑनलाइन आकर अपना कीमती टाइम नहीं खराब करना चाहिए।  
  • अपने सीक्रेट्स अपने करीबी दोस्तों की जगह ऑनलाइन दोस्त से कभी शेयर नहीं करने चाहिए क्योंकि वो आपके सक्रेटस दूसरों को भी बता सकता है। ऐसा जरूरी नहीं है कि अपने साथ होने वाली हर एक्टिविटी से उसको अवगत कराएं।  ऑनलाइन दोस्त आपके बारे में जानकारी मांगे तो उसे एक बार में ही पूरी जानकारी न दें।
  • अपनी पिक्स या वीडियो तब तक उसको शेयर न करें जब तक कि आप इस बात के लिए श्योर न हो जाएं कि  सामने वाला व्यक्ति भरोसे के काबिल है।  कोई भी ऐसी मांग जो आपको ठीक नहीं लगती उसे पूरा न करें। 
  • कई बार लोग दूसरों के सामने अपना दुखड़ा रोकर सामने वाले की सहानुभूति जीतने की कोशिश  करते हैं। इसलिए उसकी मदद के लिए कोई भी कदम उठाने से पहले कन्फर्म कर लीजिए कि वो सच में परेशां है भी या नहीं। 

 

ये भी पढ़ें –

किसी अनजान से दोस्ती करना खतरनाक

दोस्ती के रिश्ते को कैसे बनाएं और भी ज़्यादा खूबसूरत 

क्या आपको भी हो गया है प्यार

ई-रिलेशनशिप कहीं एक धोखा तो नहीं

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।