एक वक्त था जब कपल में एज-डिफरेंस एक टैबू माना जाता था। अगर बॉलीवुड की बात करें तो ऐसे रिश्तों की भरमार हैं और उनका आज तक का सफल वैवाहिक जीवन दर्शाता हैं कि प्यार के लिए आपसी सामंजस्य, समझदारी, समर्पण व सम्मान जरूरी हैं न कि उम्र।  आप 45 वर्षीया बॉलीवुड एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा को ही देखिए। वो अपने से 12 साल छोटे अर्जुन कपूर के साथ रिलेशनशिप में हैं सिर्फ इतना ही नहीं हाल ही में बॉलीवुड की स्टार एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने भी अपने से उम्र में 11  साल छोटे निक जोनास के साथ सात फेरे लिए हैं। यही नहीं 53 वर्षीय मॉडल और एक्टर मिलिंद सोमन ने अपने से उम्र में लगभग 27 साल छोटी लड़की से ब्याह रचाया है। 
 

 

एक पुरानी कहावत है कि प्यार में उम्र मायने नहीं रखती है। इसी  कहावत को सच करते हुए आजकल बहुत सारे उदाहरण सामने आ रहे हैं, जिनमें उम्र का अंतर बहुत ज़्यादा होता है। लेकिन प्यार अंधा  होता है और ये किसी की स्वीकृति का मोहताज नहीं होता है। एक समय था जब लड़कियां अपने से उम्र में बड़े लड़कों से शादी करती थीं लेकिन अब छोटे लड़कों से शादी करना फैशन बन गया है। यह अंतर 1 या 2  साल का न होकर 5 -10 या फिर उससे भी ज्यादा का होता है। यही नहीं लड़के भी अपने से 10 -12  साल छोटी लड़की से शादी करने को अहमियत देते हैं। 
 

 

लोगों की बदलती सोच 
 
वैसे मान्यताओं के अनुसार शादी के लिए ज्यादा से ज्यादा उम्र का गैप दो या तीन साल होना चाहिए। आदर्श जोड़ा वही माना जाता है, जिसमें लड़का बड़ा और लड़की छोटी होती है। लेकिन समय और बदलते परिवेश में लोगों की सोच भी बदल गयी और उम्र का ये अंतर भी बदलने लगा। ऐसा माना जाता है कि जब उम्र का फासला ज्यादा होता है तब दोनों के बीच एक जनरेशन गैप  हो जाता है और आपसी सोच अलग होने,रहन-सहन का तरीका अलग होने की वजह से कई बार रिश्ते निभाना मुश्किल होने लगता है। हो सकता है कि  उम्र में ज्यादा फ़र्क़ आने के कारण आपको बहुत सी परेशानी का सामना करना पड़ रहा हो, लेकिन यदि आप समझदारी से उस परेशानी का हल निकालने की कोशिश करते है तो आप इन तरीकों से अपनी शादीशुदा जिंदगी को खुशहाल बना सकते हैं ।
 
पार्टनर को नीचा न दिखाएं 
ऐसा माना जाता है कि जीवनसाथी के साथ अच्छा तालमेल शादीशुदा  जिंदगी में ख़ुशी के रंग भर देता है। आपकी उम्र का अंतर चाहें जितना हो कभी भी अपने पार्टनर को नीचा नहीं दिखाना चाहिए नहीं तो रिश्ते में दरार तक पड़ सकती है। 
 
एक दूसरे को समझें 
 
आपसी प्यार और विश्वास तभी होता है जब पार्टनर्स एक दूसरे  को समझते हैं। आपसी समझ के लिए उम्र मायने नहीं रखनी चाहिए। आपसी लड़ाई और अनबन से बचने के लिए एक-दूसरे को अच्छी तरह समझना बहुत ज़रूरी है। एक-दूसरे को ज्यादा से ज्यादा समय देना चाहिए  जिससे आप एक दूसरे को समझ सकें।
 
इच्छाएं जाहिर करें 
 
उम्र में ज्यादा फ़र्क़ होने के कारण हो सकता है कि आप क्या चाहते हैं ऐसे में अपनी इच्छाएं जाहिर करना बहुत ज़रूरी है।  आप दोनों को खुलकर आपस में बात करनी चाहिए और उन्हें बताना चाहिए कि आप अपने पार्टनर से क्या चाहते हैं, ऐसा करने से आप दोनों को एक-दूसरे के बारे में जानने व एक-दूसरे की पसंद-नापसंद के बारे में पता चलता है।  
 

 

अपने विचार दूसरे पर न थोपें
 
पार्टनर के बीच उम्र गैप ज्यादा होने पर दोनों की विचार धाराएं भी अलग होती हैं इसलिए दोनों में अक्सर आपसी मतभेद होते हैं।  ऐसे में आपको चाहिए कि  अपने विचार दूसरे के ऊपर न थोपें क्योंकि विचारों के बोझ तले दबकर ज़िंदगी बेजान हो जाती है। इसके अलावा एक दूसरे  के विचारों का सम्मान भी करना चाहिए। 
 
भावनाओं का सम्मान करें
 
उम्र में बड़े होने का ये मतलब नहीं होता है कि दूसरे की भावनाओं की कद्र न की जाए। यदि उम्र का फासला होने के बाद भी आप यह चाहते हैं कि  पति पत्नी के रिश्ते में हमेशा प्यार रहे और आपकी शादीशुदा जिंदगी खुशहाल रहे तो आपको एक-दूसरे की भावनाओं को सम्मान करना चाहिए। इससे दोनों के बीच प्यार और विश्वास बढ़ जाएगा। 
 
एक-दूसरे की मदद करें 
 
उम्र का ज्यादा अंतर होने से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता है बस यदि आप अपने पार्टनर की किसी भी परेशानी में, किसी भी काम में या जब भी उन्हें आपकी जरुरत हो उनके साथ खड़े रहें और उनकी मदद करें ।