अगर आप गाड़ी, बस, प्लेन या किसी भी वाहन में ट्रैवल करते हैं तो आपको मोशन सिकनेस महसूस करने को मिल सकती है और इसके कारण आपको उल्टियां, पसीना आना, चक्कर आना, जी घबराना आदि महसूस करने को मिल सकते हैं। इससे बचने के लिए आप कुछ बहुत सिंपल से चीजें भी कर सकते हैं जैसे होरिजन की ओर देखना पर हर व्यक्ति को इन टिप्स से आराम नहीं मिलता है। अगर आप इसकी कोई दवाइयां लेते हैं तो आपको इससे पहले एक बार डॉक्टर से भी राय ले लेनी चाहिए। अगर दवाइयां भी मदद नहीं करती हैं तो आपको कुछ घरेलू उपचार ट्राई करने चाहिए जिनसे आपको जरूर आराम मिल सकता है। आइए जानते हैं मोशन सिकनेस से बचने की कुछ घरेलू रेमेडी।

अपनी पोजीशन चेंज करें

देखा गया है कि जब मोशन सिकनेस की समस्या होती है तो कुछ लोगों को लेटने से आराम मिलता है तो कुछ को खड़े होने से। लेकिन यह बात भी सही है कि ट्रैवलिंग के दौरान यह दोनों ही पोजीशन सही नहीं है डिपेंड करता है कि आप किस साधन से ट्रेवल कर रहे हैं ऐसे में यदि संभव हो तो अपनी बैठने की पोज़िशन को अदल-बदल कर देखें और जिस अवस्था में सबसे ज़्यादा आराम मिले उसका ही पालन करें।

प्रेशर प्वाइंटआपकी कलाई पर होने वाला एक्यूप्रेशर प्वाइंट भी आपको राहत प्रदान कर सकता है। इसके लिए आपको इस प्वाइंट पर अपनी इंडेक्स, रिंग और मिडिल फिंगर रखनी है और इस प्वाइंट को दबाने की कोशिश करें। आपका एक्यू प्रेशर प्वाइंट इंडेक्स फिंगर के नीचे होना चाहिए। अब 4 से 5 सैकंड के लिए अपनी उंगलियों से प्रेशर लगाएं। आपको बाएं हाथ की कलाई पर यह करना है।

अरोमा थेरेपीकुछ सुगंध जैसे लेवेंडर एसेंशियल ऑयल या अदरक भी आपकी मदद कर सकते हैं। अस्पतालों में मरीजों की जी घबराने की समस्या को पेपरमिंट ऑयल द्वारा दूर किया जाता है। ऐसे बहुत से ऑयल हैं जिनकी सुगंध से आप मोशन सिकनेस के लक्षणों को कम कर सकते हैं। इसलिए जब भी ट्रैवलिंग करें तो अपने साथ एक पोर्टेबल डिफ्यूजर रखें और उसमें एसेंशियल ऑयल को मिक्स कर दें और हर एक घंटे में सूंघ लें।

चैमोमाइल टीचैमोमाइल एक हर्ब होता है जो पेट की समस्याओं को दूर करके पेट की मसल्स को रिलैक्स करता है। आप इस टी को अपने आस पास के स्टोर या किसी भी ऑनलाइन वेबसाइट से मंगवा सकते हैं। अगर आप कहीं जा रहे हैं तो आपको जाने से पहले एक बार यह चाय पी लेनी चाहिए और जाने के दौरान भी एक थरमस में इसे स्टोर करके साथ लेकर जाएं ताकि जब भी आपका मन खराब हो तो आप इसे पी सकें।

जिंजर रूट को साथ रखेंअदरक की जड़ को आप कैप्सूल, कैंडी या टैबलेट किसी भी रूप में खरीद सकते हैं और यह भी मोशन सिकनेस के लक्षणों को कम करने के लिए बहुत लाभदायक मानी जाती है। इसमें एंटी नौसिया इफेक्ट्स होते हैं जो आपका जी घबराने से रोकते हैं। अगर आप किसी प्रकार की दवाइयां लें रहे हैं या हाल ही में कोई सर्जरी करवाई है तो इसका सेवन न करें।

बर्फ का करें प्रयोगअगर आपके लिए कोई भी रेमेडी काम नहीं कर रही है तो आपको अपने साथ कुछ आइस क्यूब रखने चाहिए और जब भी आप का मन खराब होता है या उल्टी जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं तो आपको थोड़ी थोड़ी बर्फ चूस लेनी चाहिए। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी।

हर्बल टी पिएंअगर आप नॉर्मल चाय पीते हैं तो उनमें मौजूद कैफ़ीन भी कई बार मोशन सिकनेस का कारण बन जाता है इसलिए आपको हमेशा बाहर निकलने से पहले किसी तरह की हर्बल टी पीनी चाहिए या आप ताजा एप्पल जूस का सेवन भी कर सकते हैं। इससे उल्टियां रुकने में मदद मिलती है।

सौंफ रखें साथ

सब एक अच्छा डाइजेस्टिव इनवेरिएंट है इसलिए घर से निकलने से पहले सौंफ खाकर जाएं और थोड़ी सी सौंफ अपने साथ अपने वॉलेट या पर्स में रखें। जब भी आपको महसूस हो कि आपको उल्टी आने वाली है तो आप थोड़ा सा सौंफ मुंह में डाल लें। इससे आराम मिलेगा।

नींबू पानी

विटामिन सी गुणों से युक्त नींबू हमेशा से ही पाचन संबंधी समस्याओं के लिए बेहद कारगर सिद्ध हुआ है। इस सिकनेस में भी यह बहुत फायदा करता है। यदि आपका जी मिचला रहा है, उल्टी आने को महसूस हो रही है, तो आप नींबू को तुरंत चाटें या नींबू पर हल्का सा नमक लगाकर चाटें। घर से निकलने से पहले नींबू का पानी पीकर जाएं। लाभ मिलता है।

काली मिर्च

घर से निकलने से पहले आप एक कप गर्म पानी में आधा नींबू निचोड़कर उसमें चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर मिला लें। इस मिश्रण को पीकर ही घर से बाहर निकलें। इससे आपको यात्रा के दौरान उल्टी नहीं आएगी।

जीरा पानी

जीरा सभी मसालों का राजा है। यह पाचन को दुरुस्त रखता है। आप जब ट्रेवल कर रही हों तो जीरे को पीसकर उसका पाउडर बनाकर अपने वॉलेट या पर्स में रख लें। जब भी आपका जी घबराये तो आप एक गिलास पानी में इस पाउडर को मिलाकर तुरंत पी लें। आपको फौरन आराम मिलेगा। 

पुदीना और अदरक की चाय

पुदीने और अदरक दोनों ही उल्टियों की समस्या में आराम देते हैं।आप पुदीने या फिर अदरक की चाय बनाकर भी पी सकती हैं। इससे भी आपको रास्ते में उल्टियां नहीं आएंगी।

अगर आप कहीं ट्रैवलिंग कर रहे हैं तो आपको हमेशा पहले कुछ न कुछ खा कर निकलना चाहिए ताकि बीच रास्ते में भूख या बाहर का खाना खाने के कारण आपका पेट खराब न हो सके। अपने आप को ज्यादा से ज्यादा हाइड्रेटेड भी रखे। इसके साथ ही अगर आप पीछे वाली सीट पर बैठते हैं तो सीट बदल कर देखें, आपको आगे की सीट पर बैठने की ट्राई करनी चाहिए। और ट्रैवलिंग के दौरान फोन आदि का प्रयोग न करें। शराब का सेवन करने से भी मोशन सिकनेस के चांस बढ़ जाते हैं इसलिए आपको कहीं जाने से पहले शराब का सेवन नहीं करना चाहिए और खिड़की भी खोल लें ताकि आपको ताजी और शुद्ध हवा मिल सके।

यह भी पढ़ें-

वीकेंड या हालिडे को बदलें फनडे में