जब भी सुबह आँखे खुले, तो आँखों के सामने कुछ ऐसा नजारा हो जिससे पूरा दिन बन जाए। कुछ ऐसा ही विचार आपके दिमाग में तो जरुर आता होगा। अब ये सम्भव कैसे होगा आप इस बारे में सोच रहे हैं तो, आपकी इस परेशानी का हल भी हमारे पास है। जी हां यही वो सही वक्त है जब आपको अपने घर में कुछ बदलाव करने हैं। रंगों का चुनाव और सही तालमेल हर किसी के बस की बात नहीं है। घर को तरोताजा करने के लिए आप किसी जानकार की मदद व सही टिप्स ले सकते हैं। आप अपने घर को एक आदर्श डिजाइन के साथ सजाना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले योजना बनाने की जरूरत है। जिस वजह से ये पूरी प्रक्रिया आपको कठिन लग सकती है, लेकिन आज इस लेख के जरिये हम आपको बताएंगे इस कठिन काम को कैसे आसान बनाना है। तो चलिए फिर शुरू करते हैं।

1.        सबसे पहले करें सही फर्नीचर का चुनाव– ये जायज सी बात है  कि घर को लेकर आप बड़े बदलाव करने वाले हैं, तो चीजों का विश्लेषण करना तो बनता है। आपको प्लान करना होगा कि कौन सा तरीका आसान है और उसका रिजल्ट अच्छा हो। आप सबसे पहले घर में फर्नीचर और डेकोरेशन का चुनाव करके इस तरीके आसान बनाएं। फिर उसी के अनुसार आप अपनी दीवारों के रंगों का चयन करें।

2.        पेंट्स और डिजाइन पर करें शोध– इस समय ट्रेंडी क्या है? इए कौन से रंगों का चुनाव करें, जिससे दीवारें बोल उठें? ये कुछ ऐसे सवाल हैं, जो पेंट से पहले आपके दिमाग में आने ही चाहिए। पेंटिंग का काम शुरू करवाने से पहले थोड़ा मार्केट और इंटरनेट पर एक्सप्लोर करें। आप इसके बारे में किसी एक्सपर्ट से भी सलाह ले सकते हैं।

3.        दिवार और जमीन के रंग में हो तालमेल– आप सबसे पहले इस बात को समझें कि आप कौन से कमरे की कौन सी दिवार पर फोकस बनाना चाहते हैं। आप जिस दीवार पर भी फोकस बनाना चाहते हैं तो उसके लिए बोल्ड, वाइब्रेट रंगों का चयन कीजिये। ध्यान रहे जमीन का रंग हल्का होगा तो रंग भी दीवार पर खूब फबेंगे। 

4.        पेंट से पहले टेस्टर्स का करें इस्तेमाल– दीवारों पर पेंट करना तो आसान है लेकिन रंग उस पर फबेंगे या नहीं, रौशनी उस रंग को हिट करेगी या नहीं, ये बड़ा टास्क होता है। इसलिये पेंट खरीदने से पहले टेस्टर्स पेंट खरीदें। आपका काम थोड़ा आसान हो जाएगा। अगर आप ऐसा करते हैं तो आप अपने घर के लिए बेहतरीन इंटीरियर आइडिया भी क्रिएट कर सकते हैं। 

5.        फर्नीचर और रंगों का हो तालमेल– आप दीवारों पर पेंट करने के टेस्ट के अलावा फर्नीचर के फैब्रिक का ख्याल रखें। आप इसके लिए छोटे से बोर्ड पर पेंट करें और अपने घर के फर्नीचर और फैबरिक के साथ मैच करके देखें कि उस रंग का सही तालमेल बैठ भी रहा है या नहीं।

6.        कहीं चमक न पड़ जाए भारी– अगर आप सोच रहे हैं कि चमचमाता हुए पेंट आपके घर की दीवारों में चार चांद लगा देगा तो आप यहां गलत हैं। पेंट की चमक दीवारों की खामियों को और भी उभार देती है। इसलिए जितना हो सके इतना ही कम चमक वाला पेंट चुने। अगर फिर भी आप चमक वाला पेंट चुनना चाहते हैं तो एक बार उसे टेस्ट कर लें। क्योंकि हर चमक की अपनी अलग विशेषता होती है।

7.        अंडरटोन की रखें जानकारी– आप अपने घर की दीवार के एक छोटे से हिस्से पर सबसे घहरा रंग का टेस्ट करें, ताकि आपको अपने मनपसंद रंग का ज्यादा गहरा रंग ना मिले। यहां आपको अंडरटोन का मतलब भी समझने की जरूरत है। जो हॉट और कूल दो तरीके के होते हैं। इन दोनों में से किसी एक को चुनने से पहले अपने इंटीरियर के पूरे लुक को जरूर टेस्ट कर लें।

8.        इस बात का भी रखें ख्याल– अगर आप अपने घर की दीवारों पर अलग अलग रंग करना चाहते हैं तो ये अच्छी बात है। लेकिन आप इस बात का ख्याल रखें कि घर की हर एक दीवार एक दूसरे से जुड़ी हुई होनी चाहिए। घर को अंदर से सजाने के लिए आप किसी थीम को भी प्लान कर सकते हैं। आप ऐसे रंग का चुनाव करें जो अपने आप में ही कुछ जुड़ा अंदाज रखता हो, और हर पहलू को पूरा करता हो।

9.        थ्री-पेंट कलर टेक्निक समझनी जरूरी– आप अपने कलर पैलेट में थ्री-पेंट कलर को सिमित रखेंगे तो बेहतर होगा। ये एक आदर्श टेक्निक मानी जाती है। आप हल्के लेकर मीडियम और डार्क कलर्स ले लिए 6, 3 और 2 के अनुपात की टेक्निक को आजमा सकते हैं। इससे आपको इवेन और आउट फिनिश देने में मदद मिलेगी।

10.      कलर पैलेट को करें फॉलो– रंगों में व्हील पेंट कलर पैलेट में आप हमेशा उनके रंगों और उनके शेड्स के अनुसार ही काम करें तो इससे आपके रंगों की व्यवस्था दर्शायी जाएगी। आप लाल रंग से गुलाबी और गुलाबी से नारंगी में धीरे धीरे बदल सकते हैं। घर के अंदर की दीवारों में पेंट उनके रंग और डिजाइन के लिए भी आपको अच्छी मदद मिलेगी। अगर आप इस पूरी प्रक्रिया को सही से फॉलो करते हैं तो।

अगर आप भी अपने घर को सपनों के घर में बदलना चाहते हैं तो आप हमारे बताए हुए पेंटिंग कलर आइडिया को फॉलो करें। इससे आप अपने घर के इंटीरियर के लिए सही रंगों का चयन कर पाएंगे और खुद को मिस्टर या मिस परफेक्ट बना सकते हैं।

यह भी पढ़ें-

एक पति को किसे महत्व देना चाहिए माता-पिता या पत्नी