googlenews
Managal dosh ke Lakshan
ज्योतिष शास्त्र, भारतीय संस्कृति की अनमोल देन है जोकि मानवीय जीवन के लिए बेहद उपयोगी है। इसमें व्यक्ति के जन्म के आधार पर उसके गुण-दोष की विवेचना से लेकर बेहतर भविष्य के लिए उपाय तक उपलब्ध हैं। वैसे अगर व्यक्ति के जन्मतिथि और स्थान विशेष की जानकारी न हो तो भी व्यक्ति के लक्षणों के आधार पर उसके बारे में काफी कुछ बताय जा सकता है। जैसे कि मंगल दोष की पहचान व्यक्ति के लक्षणों के आधार पर सम्भव है। दरअसल, ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल दोष से प्रभावित व्यक्ति में कुछ खास लक्षण दिखाई पड़ते हैं। आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं कि मगंल दोष के चलते व्यक्ति में किस तरह के लक्षण दिखते हैं और साथ ही हम आपको इसे दूर करने के उपाय भी बताएंगे।

लाल आखें

जी हां, मगंल दोष से प्रभावित व्यक्ति की सबसे बड़ी पहचान उसकी आखें होती हैं, जोकि अक्सर लाल रहती हैं। साथ ही ऐसे व्यक्ति की पुतलियां ऊपर की ओर उठी हुई होती हैं। यानि कि इनके आंखें आपको चढ़ी हुई सी नजर आएंगी।

गुस्सैल स्वभाव

वहीं मगंल दोष वाला व्यक्ति स्वभाव से काफी गुस्सैल और तेज तरार्र होता है, जिसके चलते इनकी किसी से नहीं बनती है। ये सबसे अलग थलग नजर आते हैं। 

बड़े भाई से अनबन

मगंल दोष से पीड़ित व्यक्ति की कभी भी अपने बड़े भाई से नहीं बनती है या फिर इन्हे बड़े भाई की स्नेह नहीं मलि पाता है।

कड़वी जुबान     

इन सबके अलावा मंगल दोष से पीड़ित व्यक्ति की कड़वी जुबान भी उसकी बड़ी पहचान होती है। ऐसे व्यक्ति बेहद खरा बोलते हैं, जो कि दूसरों को बुरा लग सकता हैं।

मंगल दोष से निजात पाने के उपाय 

हनुमान जी की नियमित रूप से पूजा-अर्चना करनी चाहिए।  
घर से बाहर निकलते वक्त गुड़ का सेवन कर निकलें।
बड़े भाई से हमेशा अच्छे सम्बंध बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए।
आंखों में सफेद रंग का सूरमा लगाएं।
अपने गुस्से पर जितना हो सके काबू पाने की कोशिश करें।