धन यानि पैसा यानि मनी एक ऐसी चीज है जो अमीर और गरीब सबके लिए बहुत जरुरी होता है |

    पैसे के लिए पुरानी कहावत है जो आज भी सही है कि “बाप बड़ा ना भईया सबसे बड़ा रुपयिया” ये कहावत यू ही नहीं बनी बल्कि सदीयों के अनुभवों का सार है और सही भी हैं क्योकि धन का होना हर इंसान के लिए बहुत ज़रूरी होता है, धन के बिना कुछ भी आसान नहीं होता जीवन में राजा हो या रंक सभी को जीवन यापन के लिए धन की ज़रूरत पड़ती ही है किसी को कम तो किसी को ज़्यादा धन का अधिक और कम होना आपके भाग्य और आपकी मेहनत पर निर्भर करता हैं पर बहुत बार ना आपका भाग्य साथ देता है और ना आपकी मेहनत उस वक़्त काम आते है वो उपाय जो हमारे ऋषि और मुनियो ने अपने गहन शोध के बाद बनाए और जनमानस तक पहुँचाये।ये लेख एक प्रयास है,उन उपायों को आप तक लाने का तो फिर बिलकुल भी देर ना करे ये लेख पूरा पूरा पड़े और जाने   

धन की बरकत के लिए कुछ चुंबकीय टिप्स यानि उपाय और उनको अपनाये और धन की बरकत करे अपने जीवन |

  • सबसे पहले तो माता लक्ष्मी की कलश लिए बैठी तस्वीर या मूर्ति अपने घर के मंदिर में लगाये और ये बात हमेशा याद रखे की माता लक्ष्मी की कभी भी खड़ी हुई मूर्ति या तस्वीर न रखे क्योकि इससे कभी लक्ष्मी जी स्थिर होकर नहीं रह पायेगी |
  • भगवान कुबेर की धन का कलश लिए मूर्ति या तस्वीर अपने घर के मंदिर या फिर तिजोरी या जहां आप अपना धन और सोना चादी रखते है वहा पर लगाये इस से भी धन की बचत और बरकत होती है क्योकि भगवान कुबेर धन के देवता है|
  • आप जब भी घर में पैसा और जेवर रखे तो उसको लाल रंग के पर्स,कपड़े,लाल बॉक्स में ही रखे मुख्य बात ये है की लाल रंग माता लक्ष्मी को बहुत ज्यादा पसंद है कहते है की लाल रंग को देखकर माता लक्ष्मी भागी चली आती है इस लिए ही कहा जाता है की लाल रंग में धन और जेवर रखने से उनकी लगातार वृद्धि ही होती जाती हैंl
  • एक मिट्टी का बर्तन लाये उसमे साबुत चावल रखे फिर उसमे छोटा सा टुकड़ा चादी और सोने का रखे[चादी और सोने का टुकड़ा न हो तो जेवर भी रख सकते है सोने और चादी के कोई भी एक एक] फिर उस बर्तन को लाल कपडे में लपेट कर अपने घर की उत्तर दिशा में ऐसी ऊची जगह पर रखे जहां पर कोई उसको देख न पाए और ये उपाय शुक्रवार को दिन में करे | हर एक साल के बाद ये सारा सामान और मिटटी का बर्तन बदल दे, और पुराने सामान को मंदिर में रख दे या फिर साफ़ जल में प्रवाहित कर दे |
  • अगर पैसा आ रहा हैं पर रुक नहीं रहा हैं तो गोपी चन्दन की 5 डली लेकर उनको भगवान कृशन और राधा जी के चरणों में रख दे और अगले दिन जाकर ले आये | ये काम किसी मंदिर में जाकर ही करना होगा आपको फिर घर लाकर इस चन्दन को रोज गंगाजल में घिसकर अपने कंठ पर लगाये ऐसा करने से नया पैसा तो बायेगा ही साथ ही अगर किसी और ने आपका पैसा ले रखा हैं और वो नहीं दे रहा हैं तो वो भी आपके घर आकर आपका पैसा लोटा देगा |
  • अगर दुकान में लगातार घाटा ही बना हुआ है तो आप एक मिट्टी के बर्तन में सवा किलों साबुत मूंग और दूसरे मिट्टी के बर्तन में सवा किलों साबुत नमक की डली रखे फिर इन दोनों का मुह बंद करके किसी अपने मनी बॉक्स में रख ले याद रहे ये काम आप किसी भी शुक्ल पक्ष के बुधवार की सुबह करे और एक माह के बाद इस सामान को साफ़ जल में प्रवाहित कर दे या मंदिर में लगे पीपल की पास रख आये,और फिर किसी दूसरे शुक्ल पक्ष के बुधवार को फिर से ये सामान ऐसे ही अपने गल्ले में रख ले |
  • अगर धन की बहुत कमी हो रही हैं और खर्चे रोके नहीं रुक रहे तो शुक्ल पाक्स के किसी भी शुक्रवार को किसी भी विष्णु जी और माता लक्ष्मी के मंदिर में जाये और सफेद रंग का एक बड़ा सा झंडा ले और उस पर केशर से सतिया याने स्वस्तिक बनाये और मंदिर में लगा दे ऐसा सात शुक्रवार करे आपको तुरंत राहत मिलनी शुरू हो जाएगी |
  • धन की कमी अगर गरीबी को दर्शाने लगे तो फिर गाय, कुत्ते, कोए को रोजाना रोटी दे और चिडियों को दाना डाले,चीटियों को भुना हुए अआते में चीनी मिलाकर रोज डाले साथ ही पानी को भी वहा एक बर्तन में जरुर रखे ये वो शानदार और कामदार उपाय है जो की तुरंत आपकी गरीबी को अमीरी में बदलने का काम करना शुरू कर देगा| पर ये भी याद रखे की ये उपाय घर के अन्दर के जानवरों  नहीं बल्कि घर के बाहर के जानवरों पर करेगे तब ही लाभ देगा अन्यथा आपको हानि ही मिलेगी |
  • इस बात का हमेशा ख्याल रखे की घर का कोई भी नल टपकता न हो साथ ही घर की पानी की टंकी भी कही से रिसती न हो, घर में कोई बर्तन ऐसा न हो जिसमे आप पानी भरते हो और वो टूटने के कारण उसमे से बहता ही रहता हो खुले शब्दों में कहने का अर्थ यही है की घर में किसी भी रूप से पानी बेकार न बहता हो घर में क्योकि वेद और पुराणों की अनुसार अगर पानी बेकार बहता है आपके घर में या आपके हाथों से तो उसको तुरंत रोके नहीं तो आपका धन भी यू ही बहता जायेगा बेकार के कामों में इस लिए धन को अगर आप अपने पास रोकना और उसका भरपूर प्रयोग करना चाहते हैं तो पानी को कभी भी न गन्दा करे और ना ही बेकार बहाये क्योकि धन यानि माता लक्ष्मी सागर पुत्री है और सागर का अर्थ है जल तो कोई भी अगर जल को बर्बाद करता है तो इसको वो अपने पिता समुन्द्र देवता का घोर अपमान मानती है और उस इंसान को दंड देने के लिए उस इंसान के घर,रोजगार पर अपना क्रोध बरसाती है और उसका साथ हमेशां के लिये छोडकर चली जाती है और उसको गरीबी प्रदान करती हैं |
  • कभी भी सूरज के उगते और छिपते समय घर में झाड़ू न लगाये,झाड़ू को हमेशा छिपाकर ही रखे, झाड़ू पर कभी पैर न लगाये,कूड़ा न डाले, झाड़ू को कभी भी उलाघ कर न जाये और ना ही अपने घर और दुकान आफिस की झाड़ू किसी दूसरे इंसान को प्रयोग के लिए दे साथ ही झाड़ू को खड़ी करके नहीं बल्कि लिटा कर रखे और उसका मुह उत्तर की तरफ रखे दक्षिण की तरफ नहीं झाड़ू से जुडी ये बातें याद रखे और अपनाये क्योकि झाड़ू माता लक्ष्मी का प्रतीक मानी जाती है एस लिए इसका अपमान करने से माता लक्ष्मी हमेशा के लिए आप और आपके परिवार से रूठ जाएगी तो अगर धन चाहते है तो हमेशा ही झाड़ू का समसम्मान करे और घर में सबसे कराये |
  • घर की दक्षिण और पश्चिम दिशा को हमेशा खाली और साफ़ रखे बेकार का कूड़ा करकट यहाँ ना रखे |
  • घर की दीवारो, फर्शो, छतों पर अगर दरारे पड़ गयी हो तो उनको तुरंत ही भरवा ले नहीं तो ये टूट फूट धन की हानि करेगी |
  • अपने उस पर्स को आप कभी भी खाली ना रखे जिसको आप रोज प्रयोग करते हो साथ अगर पर्स फट गया है तो उसको तुरंत ही बदल के पुरुष लोग पर्स को कभी भी पेंट की पीछे की जेब में न रखे आगे की में रखे |
  • घर में पूजाघर जरुर बनाये और उसमे अपने धर्म के अनुसार अपने भगवान रखे जो भी आप अपने धर्म अनुसार चीज़े मूर्ति ,तस्वीर आदि रखते है वो खंडित न हो साथ ही एक भगवान की एक से ज्यादा मूर्ति या तस्वीर ना रखे| मंदिर को हमेशा साफ़ रखे| सुबह और शाम को मंदिर में पूजा जरुर करे|घी का दिया जलाये,धूप दिखाई और फिर भगवान का भोग भी जरुर लगाये इस से घर का वातावरण सकारात्मक तो रहेगा ही साथ ही धन का आगमन भी बना रहेगा |
  • अपनी आमदनी बढाने की लिए किसी भी शुक्ल पक्ष के सोमवार को शिव मंदिर में जाये और आपकी मुठ्ठी में जितने भी चावल आ जाये उनको शिवलिंग पर चड़ा दे और अपनी धन सम्बन्धी परेशानी नंद्दी जी के बाएँ कान में बोले ऐसा आप कम से कम 5 सोमवार जरुर करे| एक बार शुक्ल पक्ष के सोमवार से शुरू करके आप लगातार 5 सोमवार तक करे बीच में रोके नहीं अगर किसी कारन से रुक जाये तो दोबारा शुक्ल पक्ष से ही शुरू करे |
  • अगर दुकान पर ग्राहक आने अचानक कम हो जाये या नौकरी छूटने के कगार पर आ जाये तो आप तुरंत माता लक्ष्मी की मंदिर में जाकर माता की श्री चरणों में इत्र की शीशी चडाकर आये और चरणों पर इत्र चडाने के बाद पंडित जी से कहे की एक रुई के फोए में माता लक्ष्मी के चरणों का इत्र लगाकर आपको वो फोया दे दे फिर उस फोए को आप अपने कानों की पीछे लगाये साथ ही दुकान या आफिस मेंजहां पर आपके बैठने की जगह हैं वहीं पर इसको रख दे और रेशमी लगातार 40 दिन तक ये उपाय करे लाभ होगा |
  • जहां भी आप अपना धन जेवर रखते है वो चाहे घर हो या दुकान या आफिस उस जगह पर अपने पैसों की गल्ले में सात पीली साबुत कोड़ी और सात साबुत गोमती चक्र और सात पीली हल्दी की साबुत गाठे, एक चादी का सिक्का पीले रेशमी कपड़े में लपेट कर रखे ऐसा करने से भी धन लगातार बढता है और धन की हानि रुक जाती है |
  • अगर आप बैंक का लिया हुआ कर्जा यानि लोन नहीं उतार पा रहे है और साथ ही आप बचत करने की योजना बनाने के बाद भी बचत नहीं कर पाते हैं जबकि आपने अपने फालतू के खर्चो पर भी रोक लगा रखी हैं तो आप गुरूवार के दिन मंदिर जाये एक पीला कपड़ा लेकर और मंदिर में तुलसी के पोधे के पास जो चारों तरफ जो घास उग जाती है उसको हाथ जोड़कर तोड़ ले और रुमाल में रखकर घर ले आये और उसको जहां आप अपनी बचत के पैसे रखते हो वहा पर रख ले आप देखेगे की आप का बैंक का कर्जा भी उतरने लगेगा और बचत भी होने लगेगी धन की |
  • अगर महीना खत्म होने से पहले ही पैसे खत्म हो जाते हो तो आप किसी भी बुधवार या शनिवार को किसी किन्नर को पूरे आदर के साथ भोजन कराये, वस्त्र दे और फल, मिठाई की साथ थोड़ी दक्षिणा भी दे इसके बाद उनको प्रणाम करे और उनसे एक सिक्का हाथ जोड़कर मागें और उसको अपने बचत रखने की गल्ले या अलमारी में रख ले ये उपाय एक चमत्कार के जैसा काम करता है धन लाभ देने में पर सिक्का अपनी दक्षिणा में से नहीं बल्कि किन्नर की पैसों में से ले तब ही ये उपाय लाभ देगा |
  • अगर दवाईयों में आपका बहुत ज्यादा धन खर्च होता है तो आप किसी भी शनिवार को किसी भी शनि मंदिर में जाकर मंदिर की बाहर बैठे हुए बच्चों को कुछ खाने की चीजें देकर आये ऐसा आप 19 शनिवार करे आप देखेगे की दवाईयों पर खर्चा होना बंद तो ही जायेगा साथ ही घर के लोगों की सेहत में भी सुधार होगा और घर में तनाव दूर होकर प्यार भी बढेगा आपस में |
  • अगर कोई नया काम शुरू किया है और अच्छा धन लाभ चाहते है तो इसके लिए आप हर शुक्रवार को एक या एक से अधिक कन्या को भोजन कराए और कुछ दक्षिणा और उपहार भी दे अपनी यथा शक्ति नए काम में अच्छा धन लाभ मिलेगा |
  • नहाने के पानी में एक चमम्च शहद,गुलाब जल,केवड़ा मिलाकर उस इंसान को रोज नहाने के लिए कहे जिसके जरिये धन घर में आता हो |
  • धन हानि को रोकने के लिए मछलीयो को मीठे आटे के गोलियां डाले ये गोली आपको घर में रखे फिश पॉट में नहीं बल्कि किसी तालाब या नदी में जाकर डालनी होगी घर की मछलियोंको गोली डालने की गलती ना करे नहीं तो धन हानि तो होगी ही साथ ही घर की मछलिया या तो मर जाएगी या बीमार हो जाएगी इस लिए ये  उपाय घर के बाहर ही करे तो ही लाभदायक होगा |
  • धन की बरकत के लिए दो काली कुंजा को आटे के चोमुखी दीपक  में चार बाती लगाकर और सरसों का तेल डालकर शनिवार को मंदिर में पीपल के पेड़ के नीचे जाकर जलाये और साथ में उरद की दाल की बनी कोई मिठाई भी रख दे ऐसा 19 शनिवार लगातार करे |
  • इमली के पेड की टहनी किसी भी सोमवार को सुबह काटकर लाये और फिर उसको गंगाजल में धोकर दीप धूप दिखाकर अपने घर की तिजोरी या दुकान या आफिस के गल्ले में रख ले, धन लाभ होगा
  • जिस इंसान के हाथ से धन हानि सबसे ज्यादा होती हो उस इंसान को नहाने के पानी में दूध, गंगाजल थोड़ी सी चीनी मिलाकर नहाना चाहिए |
  • जिस भी इंसान को धन की बरकत करनी है तो उस इंसान को चाहिए कि वो कमलगट्टे की माला को लाल कपड़े में रख कर उसको घर की तिजोरी या धन रखने वाली जगह पर रखे और रोज़ उसको चंदन की धूप दिखाए और हर दिवाली पर उसको लक्ष्मी पूजन में रखे और वापस फिर अपनी तिजोरी या धन रखने वाली जगह पर रख ले हर साल यही करे अगर माला ख़राब हो जाए तो उसको बदल कर उसकी जगह नयी कमलगट्टे की माला उस लाल कपड़े में रख ले।
  • अगर आपके ऊपर क़र्जा बहुत ज़्यादा हो गया हो और उतरने का नाम ही ना ले रहा हो और आपकी सारी कोशिशें बेकार जा रही हो तब उस हालत में आप गुरुवार को भगवान गणपति के मंदिर में जाए और गणपति की गले में १०८ हल्दी की गाँठो की माला पहनाए।ऐसा आप तब तक करते रहे जब तक की आपका पूरा क़र्जा उतर ना जाए।
  • गुरुवार के दिन पीपल के पेड़ के पाँच पत्ते ले उन पर केशर से श्रीम लिखे और उसके बाद उन पत्तों को पीली मिठायी के साथ भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी के मंदिर में ले जाकर रख दे ।इस से धन आने के रास्ते खुलते हैं धन से जुड़ी हर रुकावट दूर हो जाती हैं।
  • माता तुलसी की आगे सुबह और शाम को देशी घी का दिया जलाए और पूजा करे। ऐसा करने से भी घर में धन की बरकत होती है और स्थिर लक्ष्मी का वास हो जाता है घर में।
  • धन अगर बेकार के कामों में बहुत लगता होता हो तो स्फटिक के शिवलिंग की पूजा रोज़ाना घर में करे और शिवलिंग का जल अपने पूरे घर में चारों कोनो में डाले।
  • अगर आपके ख़ुद के भाई और बहन ही आपके धन को हड़प ले या उसका ग़लत प्रयोग करे और उस समय आप को ये लगे की आप के अपने भाई बहन ही आपको धोका दे रहे हैं तब आप भगवान शिव के मंदिर में जाकर सरसों के तेल के चोमुखी दिये में काले तिल डालकर २१ दिन तक जलाए इस से आपको तुरंत लाभ मिल जाएगा ।
  • अगर अचानक ही किसी ज़रूरी काम के लिए बड़ी मात्रा में धन की ज़रूरत पड़ जाए काम बहुत ज़रूरी हो और आपके पास पर्याप्त मात्रा में धन ना हो तब आप ११ पानी के नारियल हनुमान जी के मंदिर में जाकर उनके चरणो में जाकर पहले चढ़ा दे फिर अपनी मनोकामना कहे उसको पूरा करने के लिए हनुमान जी को राम जी की क़सम का वास्ता दे और उनको आपका काम पूरा करने के लिए कहे इसके बाद वो ११ नारियल वही मंदिर में जय श्री राम ओर जय हनुमान कह कर फोड़ दे और वो नारियल के टुकड़े मंदिर में सबको बाँट दे और ख़ुद ना तो खाए और ना ही अपने घर लेकर आए आप देखेगे की उस दिन ही राम जी की कृपा से हनुमान जी आपके लिए पैसों का इंतज़ाम कर देंगे जिसको देखकर आप ख़ुद ही हैरान रह जाएगी।

विशेष नोट —इस लेख में बताए गए सब ही उपाय हमारे भारतीय दर्शन और ऋषि मुनियो के सालों के शोध का फल है। ये आपको कितना जल्दी फल देंगे ये आपके धन कमाने के लिए करी गयी मेहनत और सही विधि से करे गए इन उपायों पर ही निर्भर करेगा की कितनी लगन से आप रोज़गार में मेहनत करते है और साथ ही कितनी आस्था के साथ इन उपायों को करते है। तो फिर बिलकुल भी देर ना करे अगर आप धन में भरपूर बरकत चाहते है तो अपने रोज़गार में दिल से मेहनत करे और पूरी विधिनुसार सही तरह से ये उपाय करे पर याद रहे की एक बार में एक ही उपाय आप करेंगे तो ये सही और जल्दी फल देंगे और धन की बकरत करेंगे अन्यथा नहीं तो जब भी आपको धन सम्बंधी परेशानी जीवन में लगे और आपके रोज़गार में आपकी मेहनत के बावजूद भी आपको लगने लगे की धन का आगमन नहीं हो रहा तो ये उपाय ज़रूर करे<लाभ ज़रूर होगा> और इनको करने का कुछ भी ग़लत प्रभाव आप पर नहीं पड़ेगा पर इनका कभी भी दुरप्रयोग ना करे और कर्म के साथ धर्म को सदा साथ लेकर चलेगे तो कभी भी जीवन में हारेगे नहीं आगे ही बड़ेंगे ।

यह भी पढ़ें- क्यों जरूरी हैं तुलसीपूजा हर घर में