राजस्थानी थाली का स्वाद तो आपने चखा होगा। दाल, बाटी, चूरमा भी खूब चाव से खाया होगा लेकिन ये राजस्थानी स्नैक्स यानी नाश्ता भी ट्राय करके देखिए, जिन्हें बनाना बहुत मुश्किल नहीं है।

मिर्ची वड़ा

सामग्री

1 कप बेसन

5-6 उबले आलू

5-6 मोटी हरी मिर्च  

½ टी स्पून जीरा

½ टी स्पून धनिया पाउडर

1 टी स्पून खड़ा धनिया

1 टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

½ टी स्पून हल्दी पाउडर

1 टेबल स्पून हरा धनिया कटा

नमक स्वादानुसार

तेल आवश्यकतानुसार

विधि

एक पेन में तेल डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें। तेल गर्म हो जाने पर जीरा, खड़ा धनिया, धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और नमक डालकर एक बड़ा चम्मच पानी डालकर मसाला पकाकर उबले आलू को मैश करके डालें।

चम्मच से चलाते हुए पकाकर एक बोल में निकाल कर ठंडा करें। मिर्च को पानी से धोकर चाकू से बीच में काटकर बीज निकालें अब आलू का मसाला डालकर दबाएं। ध्यान रहे कि मिर्च इस तरह से काट कि मिर्च अलग न हो।

एक बोल में बेसन, नमक, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं। एक पेन में तेल डालें, तेल गर्म हो जान पर मसाला भरी हरी मिर्च को बेसन डालकर ऊपर से कवर करके गर्म तेल में डालकर गोल्डन ब्राउन हो जाने तक फ्राय करें। और एक प्लेट में निकाल गरमा-गरम सर्व करें।

मठरी

सामग्री

1 कप मैदा

¼ टी स्पून नमक

¼ टी स्पून जीरा

¼ टी स्पून अजवाइन

¼ टी स्पून काली मिर्च पाउडर

2 टी स्पून देसी घी

तेल आवश्यकतानुसार

विधि

एक बड़े बोल में मैदा, नमक, जीरा, आजवाइन, काली मिर्च पाउडर और देसी घी डालकर हाथों से मिलाएं। थोड़ा- थोड़ा पानी डालकर एक डो बनाकर 5-10 मिनट ढ़ककर रखें।

तेल लगाकर मैदा चिकना करके दो भाग में करें। बेलन से पतला बेलकर तैयार करें एक छोटे बोल में एक छोटी चम्मच घी और एक छोटी चम्मच मैदा डालकर पेस्ट बनाकर मैदे की पतली रोटी के ऊपर चम्मच से फैलाएं और एक गोल रोल बनाकर तैयार करें।

चाकू से छोटी-छोटी लोई काटकर बनाएं और बेलन से पतली पुड़ी बनाकर मैदे और घी का पेस्ट लगाकर फोल्ड करें और फिर पेस्ट लाकर पराठे के आकार की मठरी देकर बेलन से हल्के हाथों से बेलकर मठरी तैयार करें।

एक पेन में तेल डालकर गैस को धीमी आंच पर चालू करें। तेल गर्म हो जाने पर एक-एक करके तैयार मठरी डालें और गोल्डन ब्राउन हो जाने पर एक प्लेट में निकालें, मठरी को बनाकर आप 8-10 दिन रख सकते हैं।

कलमी वड़ा

सामग्री

1 कप चनादाल

3-4 हरी मिर्च

1 टी स्पून अदरक का पेस्ट

¼ टी स्पून हींग

½ टी स्पून हल्दी पाउडर

½ टी स्पून सीका पीसा जीरा

1½ टी स्पून धनिया पाउडर  

½ टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

½ टी स्पून गरम मसाला

1 टेबल स्पून हरा धनिया बारीक कटा

नमक स्वादानुसार

तेल आवश्यकतानुसार

विधि

चनादाल को पानी से धोकर 5-6 घंटे पानी में भिगोकर रखें। मिक्सर के जार में  चनादाल, हरी मिर्च और अदरक का पेस्ट डालकर दरदरा पीसकर एक बोल में निकालें। ध्यान रहे कि चनादाल पीसते समय पानी का इस्तेमाल नही करना हैं।

अब सारे मसाले डालें हींग, हल्दी पाउडर, सीका पीसा जीरा, धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, गरम-मसाला, हरा धनिया और नमक डालकर छोटी चम्मच से अच्छे से मिलाएं।

एक पेन में तेल डालकर गैस को मध्यम आंच पर चालू करें। तैयार मसाले से मसाला निकालकर एक लोई बनाकर हथेली से दबाते हुए वड़ा बनाएं और गर्म तेल में डालकर धीमी आंच पर तलकर एक प्लेट में निकालें।

चाकू से काटकर पीस तैयार करके फिर गर्म तेल में डालकर एक बार और तलकर निकालकर गरमा-गरम सर्व करें। 

प्याज की कचौड़ी

सामग्री

2 कप मैदा

1 चुटकी मीठा सोड़ा

½ टी स्पून नमक

2 टी स्पून देसी घी

2 कप प्याज कटे

1 कप आलू उबले

½ टी स्पून अदरक बारीक कटा

1 टेबल स्पून हरा धनिया बारीक कटा

1-2 हरी मिर्च कटी

1 टेबल स्पून काजू  

¼ टी स्पून हींग

1 टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

1 टी स्पून खड़ा धनिया

1 टी स्पून धनिया पाउडर

1 टी स्पून बेसन

½ टी स्पून गरम-मसाला  

½ टी स्पून हल्दी पाउडर  

½ टी स्पून अमचूर पाउडर

½ टी स्पून जीरा

नमक स्वादानुसार

तेल आवश्कतानुसार

विधि

एक बोल में मैदा, मीठा सोड़ा, नमक, घी डालकर हाथो से मिलाकर थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर एक सॉफ्ट डो बनाकर रखें।

स्टफिंग बनाने के लिए – एक पेन में तेल डालकर गैस को मध्यम आंच पर चालू करें। तेल गर्म हो जाने पर जीरा, हरी मिर्च, काजू, हींग और प्याज डालकर भूनें। प्याज भून जाने पर नमक, लाल मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर, गरम-मसाला, हल्दी पाउडर, अमचूर पाउडर, बेसन, उबले आलू मैश किए और हरा धनिया डालकर 2-3 मिनट धीमी आंच पर पकाकर प्याज का मसाला तैयार करें।

मसाला पक जाने पर एक बोल में निकालकर ठंडा होने दें। अब कचौरी बनाने के लिए मैदे से लोई लेकर छोटी पुड़ी बनाएं और बीच में प्याज का मसाला डालकर चारों तरफ से किनारे उठाकर दबाते हुए पानी लगाकर अच्छे से चिपका कर एक लोई बनाएं और हाथों की हथेली के बीच में दबाते हुए कचौड़ी बनाकर तैयार करें।

एक पेन में तेल डालें तेल गर्म हो जाने पर एक-एक करके कचौड़ी डालकर धीमी आंच पर गोल्डन ब्राउन हो जाने तक फ्राय करके एक प्लेट में निकाल कर सॉस या हरी चटनी के साथ सर्व करें। 

सत्तू के प्याज के पकौड़े

सामग्री  

50 ग्राम पालक

1 कप सत्तू  

1 टेबल स्पून धऩिया कटा

1-2 हरी मिर्च बारीक कटी

½ टी स्पून अजवाइन

½ कप प्याज बारीक कटा

½ टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

¼ टी स्पून हल्दी पाउडर

¼ टी स्पून हींग

नमक स्वादानुसार

तेल आवश्यकतानुसार

विधि

पालक को पानी से धोकर साफ करें और चाकू से बारीक काटे। एक बोल में सत्तू, प्याज, हरी मिर्च, अजवाइन, पालक, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर हींग, नमक, एक छोटा चम्मच तेल डालकर चम्मच से मिलाकर फिर थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर एक पेस्ट बनाकर 15-20 मिनट रखें।

एक पैन में तेल डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें। तेल गर्म हो जाने पर छोटी चम्मच से या हाथों से अपनी पसंद के पकौड़े डालें और गोल्डन ब्राउन हो जाने पर एक सर्विंग प्लेट में निकालकर हरी चटनी या सॉस के साथ सर्व करें।

पंजाब के फेमस 3 अचार बनाकर देखिए

घर में आसानी से बना सकते हैं ये 5 जापानी डिज़र्ट