यह बात सही है कि स्किन टाइप के अनुसार त्वचा की देखभाल करनी चाहिए। लेकिन उससे पहले यह पता होना चाहिए कि आपकी स्किन किस तरह की है, मतलब सूखी, तैलीय या मिली-जुली। स्किन का पता करने के लिए जब आप सुबह उठे तो चेहरे को धोने या साफ करने से पहले वाइप से पोंछ लें। यदि वाइप साफ है, तो आपकी सूखी त्वचा है। यदि वाइप पर दाग या चिकनाई है, तो आपकी तैलीय त्वचा है। त्वचा की दैनिक देखभाल में क्लींजिंग, एक्सफोलिएशन (स्क्रब का उपयोग), टोनिंग, मॉइश्चराइजिंग, नरिशिंग, आंखों की देखभाल, होंठों की देखभाल और मास्क का उपयोग करें। इसके अलावा इन बातों का भी ध्यान रखें, जैसे-

1. सफाई करने से यह शरीर के गंदगी, प्रदूषण, बदबूदार पसीना, तेल, डेड सेल्स और मेकअप को हटाने में मदद करते हैं। यदि आप साबुन का उपयोग करते हैं, तो दिन में केवल दो बार ही नहाएं। अगर आपकी त्वचा ड्राई है, तो क्लींजिंग क्रीम या जैल का उपयोग करें। तैलीय और कॉम्बिनेशन त्वचा वालों के लिए लाइट क्लींजिंग मिल्क और लोशन इस्तेमाल करना चाहिए। पिंपल्स त्वचा वालों को मेडिकेटेड क्लींज़र का उपयोग करना चाहिए।

2. एक्सफोलिएशन रोमछिद्रों की गहराई से सफाई करने और डेड सेल्स को हटाने में मदद करती है। यह फेशियल स्क्रब से किया जाता है। ड्राई त्वचा के लिए सप्ताह में एक बार स्क्रब का उपयोग करें, जबकि तैलीय त्वचा और बिना पिंपल्स वाले सप्ताह में दो या तीन बार स्क्रब का इस्तेमाल करें।

3. त्वचा की टोनिंग क्लींजिंग के बाद करनी चाहिए। टोनिंग त्वचा के सतह पर ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करने में मदद करता है, रोमछिद्रों को बंद करता है और त्वचा को तरो-ताज़ा बनाता है। रोजवॉटर सबसे अच्छा प्राकृतिक टोनर है। साफ करने के बाद, त्वचा को पोंछने और थपथपाने के लिए स्किन टॉनिक या गुलाब जल में भिगोए हुए रूई के पैड का इस्तेमाल करें।

4. त्वचा की देखभाल के लिए सबसे महत्वपूर्ण है सन प्रोटेक्शन। अधिकांश सनस्क्रीन में पहले से  ही मॉइश्चराइज़र मौजूद होते हैं और त्वचा के लिए नमी सबसे महत्वपूर्ण है। मॉइश्चराइज़र तरल और क्रीम दोनों रूपों में उपलब्ध हैं। ऑयली स्किन को ड्राई मौसम के दौरान ही मॉइश्चराइज़र की आवश्यकता हो सकती है।

5. दिन के दौरान त्वचा पर जमा हुई अशुद्धियों को हटाने के लिए रात के समय की त्वचा को क्लीन करना सबसे महत्वपूर्ण है। जब हम रात के समय सोते हैं, तो त्वचा रिपेयर होती है।

6. रात के समय आंखों से मेकअप को ज़रूर साफ करें। बादाम क्रीम या बादाम का तेल आंखों के नीचे लगाएं और सॉफ्ट रूई से पोंछ लें। बादाम क्रीम या बादाम का तेल होंठों पर लगाएं और रातभर लगा रहने दें।

7. नरिशिंग बहुत महत्वपूर्ण है ड्राई स्किन के लिए। यह त्वचा को मुलायम रखने में मदद करता है, ताकि वह नमी को बनाये रख सके। रात में त्वचा को साफ करने के बाद, नरिशिंग क्रीम लगाएं और 2 से 3 मिनट के लिए त्वचा पर मालिश करें और फिर नम सूती कपड़े से पोंछ दें।

8. मुंहासे होने पर रात में मेडिकेटेड क्लींजर या एंटी-मुंहासे फेसवॉश का इस्तेमाल करें। फिर केवल मुंहासों के निशान पर मुंहासों पर एंटी-मुंहासों वाला लोशन लगाएं और मुंहासों के निशान पर एंटी-ब्लीम ऑइंटमेंट लगाएं और उन्हें रातभर छोड़ दें। 

9. मास्क त्वचा की देखभाल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि वे कई कार्य करते हैं। मास्क का नियमित उपयोग त्वचा को अच्छी स्थिति में रखने में मदद करता है, ग्लोइंग बनाता है, त्वचा में कसाव लाता है, नए सेल बनाने में मदद करता है और उम्र को तेजी से बढ़ने से रोकता है। फेस मास्क को लगाते समय ध्यान रहे कि चेहरे पर लगाते समय होंठ और आंखों के आसपास के क्षेत्र पर लगाने से बचें। सूख जाने पर इसे धो लें।

10. एक प्रोफेशनल सैलून को ड्राई त्वचा के लिए फेशियल मसाज को शामिल करना चाहिए। जबकि ऑयली स्किन वालों को क्लिनअप करवाना चाहिए और ब्लैकहेड्स हैं तो उसे हटाना चाहिए।

11. स्वस्थ त्वचा के लिए आहार और व्यायाम सबसे महत्वपूर्ण हैं। इसलिए आहार आपका अच्छा होना चाहिए। वसा और चीनी का सेवन कम करना शुरू कर दें। अपने दैनिक आहार में ताजे फल, पत्तेदार सब्जियां, सलाद, दही और अंकुरित अनाज शामिल करें। दैनिक व्यायाम ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है और आपकी त्वचा पर वापस चमक लाता है।

यह भी पढ़ें –5 मेकअप टिप्स इन मॉनसून

आपको हमारे ब्यूटी टिप्स कैसे लगे? अपनी प्रतिक्रियाएं हमें जरूर भेजें। ब्यूटी-मेकअप से जुड़े टिप्स भी आप हमें ई-मेल कर सकते हैं-editor@grehlakshmi.com