आइए जाने कि सनस्क्रीन हमारे लिए क्यों जरूरी है और हमें अपने स्किन के अनुसार कौन से एस.पी.एफ का इस्तेमाल करना चाहिए:

  • एंटी एजिंग की प्रोसेस को धीमा कर देती है।
  • सूर्य की यू.वी ए और यू.वी बी किरणों से होने वाले नुकसान से बचाता है।
  • सूरज की किरणों से होने वाली टैनिंग से बचाता है।
  • यूवी रेज से होने वाले कैंसर से भी बचाव करती है।

स्किन टोन के अनुसार

आपकी स्किन गोरी है, तब आपको एस.पी.एफ. की अधिक मात्रा वाली सनसक्रीन क्रीम लगानी चाहिए। लेकिन आपकी स्किन एसीयन यानि भारतीय रंग के अनुसार गेहुएँ टोन में है, तो आपको 15एसपीएफ वाली क्रीम भी लगा सकती हैं।

सही सनसक्रीन का चुनाव करें

  • सनस्क्रीन खरीदते समय ध्यान दें कि उसकी मैन्यूफैक्चरिंग डेट जरूर देख लें। कोशिश करें कि हमेशा नई डेट वाली क्रीम ही खरीदें। सनस्क्रीन जितनी नई डेट की होगी, उसका प्रभाव भी उतना ही ज्यादा होगा। सनस्क्रीन खरीदने से पहले ये जरूर ध्यान दे कि उसमें ऑक्सीबेंजोन न हो, क्योंकि यह त्वचा के लिए हानिकारक होता है और इससे आपको एलर्जी भी हो सकती है।
  • मैट फिनिश वाली सनस्क्रीन चुनें। इस क्रीम को अच्छी मात्रा में लेकर अच्छे से चेहरे पर लगाएं। इस सनस्क्रीन को धूप में निकलने से कम से कम आधे घंटे पहले लगाएं।
  • आप जब भी अपने लिए सनसक्रीन को चुनें, तब सबसे पहले अपनी स्किन की टोन और उसके टैक्सचर को ध्यान में रखकर लें। इसमें आपको अपनी स्किन के ऑयली से लेकर नॉर्मल या कॉम्बिनेशन आदि का ध्यान रखना होगा।
  • ऑयली स्किन के लिए सनस्क्रीन चुनते समय इस बात का ध्यान रखें कि वह आपके स्किन को और ऑयली न बना दें। जिससे स्किन और अधिक ऑयली लगने लगे। इसलिए जेल या स्प्रे वाली सनसक्रीन आप लें।
  • अगर आपकी त्वचा ज्यादा गोरी है, तो आप एस.पी.एफ 30 से 50 के बीच वाले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। जिनकी त्वचा सांवली है, उन्हें एस.पी.एफ 6 से 15 तक का सनस्क्रीन इस्तेमाल करना चाहिए और जिनकी त्वचा ज्यादा डार्क है, उन्हें एस.पी.एफ 2 से 10 तक के सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए।

ये भी पढ़ें

सनस्क्रीन और एसपीएफ से जुड़ी 10 जरूरी बातें

चुन लें सही सनस्क्रीन

skin care: अमेजिंग होममेड टिप्स, जो आपके चेहरे को गोरा बनाए

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।