गर्मियों के दिन शुरू होते ही बाज़ार में दजर्नो ऐसे प्रोडक्ट आ चुके हैं जो अन्जानी सामग्री मर्यादित एसपीएफ – पेराबेन्स और मुहांसे रोधक पदार्थ वाले हानिकारक रसायनो के साथ चमत्कारी परिणाम और संपूर्ण सुरक्षा का दावा करते हैं।
हमारी भागदौड़ भरी ज़िंदगी और व्यस्त दिनचर्या के कारण हमें त्वचा की सुरक्षा के लिये मुश्किल से ही समय मिल पाता है, और सन प्रोटेक्शन बहुत ही पेचीदा चीज हो गई है। यहां कुछ मुख्य घटक पेश हैं जिसपर आपको अपनी त्वचा के लिए एक उचित प्रोडक्ट चुनते समय गौर करना चाहिए –

एसपीएफ फैक्टर

यह तत्व यूवीबी यानी लालिमा और त्वचा को धूप से झुलसाने जैसे मामलों में त्वचा के लिए प्राकृतिक सुरक्षा का बहुलीकरण करने का प्रतिनिधित्व करता है। उदाहरण के तौर पर, एसपीएफ  50 त्वचा की प्राकृतिक सुरक्षा को धूप से झुलसाने में 50 गुना कमी करता है। 50 के आगे एसपीएफ से मिलती सुरक्षा में बड़ी वृद्धि नहीं होने की वजह से ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय प्रोडक्ट एसपीएफ को एसपीएफ 50+ ही लिखते है जिसका अर्थ होता है कि वो अधिकतम सुरक्षा प्रदान करता है।


यूवीए फैक्टर
 

यह तत्व त्वचा को शीघ रंजकता के बहुलीकरण से प्राकृतिक सुरक्षा पर्दान करता है। कुल मिलाकर जो सुरक्षा का चयन किया जाए उसमें एसपीएफ और यूवीए फैक्टर्स का उचित संतुलन होना चाहिए, जिससे कि यूवीए से भेद्य त्रुटियों के बिना ही त्वचा को प्राकृतिक सुरक्षा प्रदान हो सके। यूवीए प्रोटेक्शन का गणित पीपीडी फैक्टर के आधार पर होता है। अगली बार जब आप एक सनस्क्रीन खरीदो तब पीपीडी वैल्यू के बारे म पुछे। पीपीडी जतना अधिक यूवीए प्रोटेक्शन उतना बेहतर।

 कवरेज रेट

कवरेज सनस्क्रीन पर प्रोटेक्शन की वो  क्षमता होती है जो त्वचा पर समानता से फैलकर उस पर ऐसे छेदों का निर्माण नहीं होती जिसे यूवी किरण भेद सकें। दोषरहित कवरेज पाने के लिए जरूरी है कि उस सन प्रोटेक्शन का चयन किया जाए जिसमें सन- फिल्टरिंग पार्टिकल्स (सूर्य की किरणों का निस्यंदन करने वाले अणु) हो, जो त्वचा के लिये सबसे घनी जाली का काम करते हैं।

फोटो स्टेबिलिटी

कुछ प्रकार के प्रोटेक्शन ऐसे होते हैं जिन्हें लगाएं तब वो फिल्टरिंग के सामने अच्छी सुरक्षा प्रदान करते हैं, लेकिन विकिर्णित ऊर्जा का असर होते ही उनकी यूवी किरणों को छानने की क्षमता तेज़ी से कम हो जाती है। फोटोस्टेबल फारमूला का चयन करने के लिए ऐसी दोषपूर्ण सुरक्षा से बचना आवश्यक है।

पानी और मिट्टी का प्रतिरोध

कुछ प्रकार के सन प्रोटेक्शन नहाते समय पानी से या त्वचा का मिट्टी से घिसे जाने पर सुरक्षा प्रदान  नहीं करता। त्वचा की कुछ जगहों पर सुरक्षात्मक फिल्म में परिवतर्न होने की वजह से यूवी विकिरणों को अंदर उतैरने का अवसर मिलता है। ऐसी समस्या से बचने के लिए ऐसे सन प्रोटेक्शन प्रोडक्ट का चयन करना ज़रूरी हें जो पानी और मिट्टी प्रतिरोधक हो। क्योंकि वो हमेशा गतिशील होते हैं, और बच्चों के लिए तो अधिक प्रर्तिरोध करने वाले प्रोडक्ट निहायत जरूरी होते हैं।
कॉस्मेटिक अपील (प्रसाधन अपील) लगाने के पश्चात सनस्क्रीन चिकना या तेल सा नहीं लगना चाहिए। उसके सुरक्षात्मक असर के अलावा उसमें चिपिचपाहट रहित, ताजगी का अनुभव, मुहांसे रहित और एलर्जी रहित जैसे कास्मेटिक गुण भी होने चाहिए। यह जानकारी त्वचा के जानेमाने कास्मेटिक बर्ड वशी लेबोरेटरीज द्वारा दी गई है जो कि लॉरियल समूह का हिस्सा है। वशी के नवीनतम सन प्रोटेक्शन रेन्ज आइडीअएल सोलेइल म􁱶 वो सारे गुण है ओर वो अकाल बुढ़ापा, रंजकता, काले धब्बे और सूयर् की रोशनी से होने वाले नुकसान जैसी समस्या का सामना करती है। विशी का आइडीअएल सोलेइल अपनी यूवीए-यूवीबी प्रोटेक्शन की विस्तृत श्रेणी से 100 प्रतिशत क्षमता के साथ सुरक्षा पर्दान करती है, वो फोटो स्टेबल है और पानी प्रतिरोधक भी है। आइडीअएल सोलेइल आपकी त्वचा, स्टाइल और सूयर् से सुरक्षा के लिए आपका सबसे अच्छा दोस्त है। हमारे नई रेन्ज के साथ अधिक नमी, अदृश्य पूणर्ता, सुंदर त्वचा और तेज़ टैन का अनुभव कीजिए।