कंडीशनर

खूबसूरत और सुंदर बालों की चाह हर किसी की होती है जिसके लिए महिलांए खूब कोशिशें भी करते हैं और कई बार वो नाकाम भी हो जाती है। पर सच तोयह है कि कोशिशें तभी रंग लाती है। जब प्रयास सही हों, नहीं तो वो गलत असर दिखा जाती है। इसलिए बालों की चमक को बरकरार रखने के लिए कुछ भी इस्तेमाल करने से पहले उसकी पूरी जानकारी जरूर रखनी चाहिए।

मिथ्यः बालों को रंगने या डाई करने से बाल खराब हो जाते हैं और आगे उसी रंग के बाल निकलते हैं?
तथ्यः डाई करने से जो बाल सिर पर हैं केवल वही प्रभावित होते हैं। जितने नए बाल उगेंगे वह अपने स्वाभाविक रंग में रहेंगें। अगर बालों की सही ढंग से देखभाल की जाए तो वो खराब नहीं होते हैं।

मिथ्यः बीयर से बाल धोने से बालों में चमक आ जाती है?
तथ्यः सच तो यह है कि बीयर से बाल धोने से रूसी की समस्या पैदा हो सकती है और वो रूखे भी हो सकते हैं।

मिथ्यः कंडीशनर का प्रयोग करने से बाल और भी घुंघराले तथा रूखे हो जाते हैं?
तथ्य: कंडीशनर के प्रयोग से बाल रूखें नहीं होते हैं, न ही घुंघराले, बल्कि इससे बालों में चमक आती है। शैंपू के बाद कंडीशनर का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

मिथ्यः हर महीने बाल कटवाने से बाल घने हो जाते हैं?
तथ्यः जी नहीं, बालों का घटना-बढ़ना बालों के टैक्सचर पर निर्भर करता है। बालों को कटवाने से वो घने नहीं होते बल्कि अच्छे ढंग से कटवाने के कारण वे घने लगने लगते हैं।

बालों से जुड़े 15 सच 4

 

मिथ्यः जब बाल एक निर्धारित लंबाई तक बढ़ जाते हैं तो उसके बाद नहीं बढ़ते हैं?
तथ्यः यह धारणा गलत है। बालों का बढ़ना उसके टैक्सचर और क्यूटिकल पर निर्भर करता है, लेकिन एक समय तक बाल तेजी से बढ़ते हैं, फिर उसके बाद बालों की बढ़त धीमी हो जाती हैं।

मिथ्यः बीमार होने पर बाल नहीं कटवाने चाहिए क्योंकि लेटे रहने से उनकी बनावट खराब हो जाती है?
तथ्यः बीमार होने पर शरीर कमजोर हो जाता है और बालों की चमक खो जाती है। भली-भांति कटे हुए बाल जैसे हैं वैसे ही रहेंगे।

मिथ्यः ज्यादा शैंपू से बाल धोने से खराब हो जाते हैं?
तथ्यः अगर इस डर से आप बालों को बिना शैंपू के धो रही हैं तो वो गलत हैं ।शैंपू न करने से बाल गंदे रहते हैं। धूल-मिट्टी से ग्रस्त होकर तैलीय हो जाते हैं और गंदगी से झड़ने भी लगते हैं।

मिथ्यः सफेद बाल को तोड़ने से उस जगह और भी अधिक सफेद बाल निकल आते हैं?
तथ्यः एक रोम कूप से एक ही बाल जन्म लेता है, इसीलिए अधिक सफेद बाल बढ़ने की गुंजाइश कम रहती है।

बालों से जुड़े 15 सच 5

 

मिथ्यः खुले बाल रखनेसे बालों में रूसी की समस्या पैदा हो जाती है?
तथ्यः रूसी की समस्या केवल बालों के अधिक तैलीय होने से पैदा होती है। बालों को खुला रखने से रूसी का कोई संबंध नहीं होता है।

मिथ्यः लगातार बालों में पंमिंग करानेसे बाल घुंघराले हो जाते हैं?
तथ्यः लगातार बालों को पंमिंग कराने से केवल बालों का उतना ही हिस्सा प्रभावित होता है। जितने में पंमिंग करवाई होती है। पूरे बाल घुंघराले नहीं होते हैं। घुंघराले बाल जन्मजात होते हैं।

मिथ्यः ड्रायर और ब्लोड्रायर के इस्तेमाल से बाल स्वाभाविक रूप सेस्ट्रेट होजातेहैं?
तथ्यः ड्रायर के इस्तेमाल से बाल कुछ देर के लिए ही स्ट्रेट होते हैं, उसके बाद वापस पहले जैसे हो जाते हैं। इसके अलावा ब्लो ड्रायर से बालों को बहुत अधिक नुकसान भी पहुंचता है, इसलिए कोशिश करें कि इसका इस्तेमाल न करें।

मिथ्यः दोमुंह बाल नीचे से जड़ की ओर बढ़ते हैं?
तथ्यः यह धारणा पूर्णतः गलत है, क्योंकि दो मुंहे बालों को विशेष देखभाल की आवश्यता होती है। लगातार कटिंग और शेपिगं हमें दो मुंहे बालों से निजात दिलातेहैं।

मिथ्यः पर्मानेंट वेविंग हमारे सिर पर शुष्कता पैदा कर तेल को सोख लेती है?
तथ्यः बालों में तेल का होना या न होना आपके हार्मोंस पर निर्भर करता है या भोजन पर। हां, किंतु अधिक कैमिकल्स का प्रयोग बालों में शुष्कता पैदा कर बालों को हानि पहुंचा सकता है।