Posted inकथा-कहानी

वर्षा और इन्द्रधनुष-21 श्रेष्ठ लोक कथाएं उत्तराखण्ड

Hindi Love Story: बसंत के पहले-पहले दिन थे। वनों में वृक्ष हरे-भरे पत्ते और लताएं फूलों से लद गई थी। आम के बौर पर कोयल के मीठे बोल झरने लगे थे। मंदाकिनी की हरी-भरी, फूलों से रंगी घाटी, वसंतोत्सव के लिए चुनी गई थी। तब हर वर्ष इसी तरह वसंत का उत्सव हआ करता था। […]